तो क्या पिस्टल लेकर पहुंचा था मुन्ना बजरंगी!

बागपत: बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या में भले ही राजनीतिक षडयंत्र की बू आ रही हो, लेकिन अपने ही पिस्टल की भेंट माफिया डॉन चढ़ गया। और सुनील राठी पश्चिम उत्तर प्रदेश में डाॅन की उपाधी ले लिया। सुनील राठी ने पुलिस को दिये बयान में बताया है कि पिस्टल मुन्ना बजरंगी ही लेकर जेल पहुंचा था। इस बिंदू को लेकर पुलिस जांच कर रही है।

जेल में मुन्ना बजरंगी को लेकर पहुंचे पुलिस कर्मियों से भी पूछताछ चल रही है। बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या के पिछे एक और चर्चा है कि सुनील राठी ने सुपारी लेकर उसे मौत के घाट उतारा है। जबकि सुनील राठी का कहना है कि मुन्ना बजरंगी ही पिस्टल लेकर जेल पहुंचा था। झगड़े में वह अपनी पिस्टल से ही मारा गया। हालांकि बागपत के पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश मामले को लेकर जांच की बात कर रहे हैं। उनका कहना है कि राठी ने ही मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या की है। लेकिन उसके के बयान को लेकर भी जांच की जा रही है।

इस कहानी से पर्दा पिस्टल ही उठायेगी की आखिर जेल में पिस्टल कैसे पहुंची। सारे मामले को लेकर पुलिस जांच में जुटी है। पत्नि सीमा का कहना है कि मुन्ना की सुनील से कोई दुश्मनी नहीं थी। पुलिस जो कह रही है वह कितनी सच है वह नहीं कह सकती। सरकार पर भी सीमा ने सवाल उठाये हैं और इसे राजनीति षडयंत्र बताते हुए कई नेताओं के नाम भी उजागर किये हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper