थोक रेट में 300 रु. की कमी, स्टालों पर बेचा गया साढ़े छह कुन्तल प्याज

लखनऊ: बारिश बंद होने तथा लखनऊ मंडी समिति द्वारा सस्ती दरों पर प्याज उपलब्ध कराने के बाद कीमतों में गिरावट शुरू हो गयी है। शुक्रवार को लखनऊ मंडी में प्याज का थोक रेट 300 रुपये कम होकर 3600 रुपये प्रति कुन्तल पर बिका है।

गुरुवार को मंडी में प्याज का थोक रेट 3900 रुपये कुंतल था। लखनऊ मंडी समिति के सचिव संजय सिंह ने बताया कि शुक्रवार को राजधानी में लगाये गये प्याज के स्टालों से सस्ती दर पर 6.30 कुन्तल आम नागरिकों को उपलब्ध कराया गया है।

प्याज की बढ़ती कीमतों से परेशान लोगों को प्याज उपलब्ध कराने के लिए लखनऊ मंडी समिति राजधानी के पांच स्थानों पर स्टाल लगाकर 30 रुपये किलों में प्याज उपलब्ध करा रही है। मंडी समिति के सहयोग से ही उद्याग विभाग व कर्मचारी कल्याण निगम भी चार-चार स्थानों पर स्टालों से जनता को प्याज उपलब्ध करा रहे हैं।

स्टाल से प्याज खरीदने वालों के लिए खरीद सीमा भी निर्धारित की गयी है। कोई भी व्यक्ति एक किलो से लेकर पांच किलो तक प्याज की खरीदारी कर सकता है। प्याज लेने के लिए नागरिक को स्टाल पर आधार या वोटर आईडी का नम्बर, नाम व मोबाइल नम्बर नोट कराना होगा।

डांडिया समारोह में रंगारंग प्रस्तुतियों की रहेगी धूम

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper