दिनदहाड़े वैन सवार बदमाशों ने छात्रा को किया अगवा

काकोरी: थाना क्षेत्र में स्कूल गयी हाईस्कूल छात्रा सोनी मौर्या को दिनदहाड़े वैन सवार बदमाशों ने अगवा कर लिया। घटना के वक्त छात्रा शौच की बात कहकर क्लॉस रूम से निकलकर बाहर शौचालय में आयी थी। सूचना के बाद भी पुलिस मौके पर करीब तीन घण्टे बाद मौके पर पहुंची। पड़ताल के दौरान छात्रा का ब्रेसलेट व रूमाल शौचालय के पास पड़ा मिला। अपहरण से नाराज ग्रामीणों ने आगरा एक्सप्रेस-वे पर सड़क जाम कर हंगामा काटा। पुलिस अफसरों ने कार्रवाई का भरोसा दिया, जिसके बाद लोगों ने रास्ता खोला। पड़ताल के दौरान आगरा एक्सप्रेस टोल प्लाजा के सीसी कैमरे में बिना नम्बर की वैन कैद हुई है। पुलिस अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कर मामले की पड़ताल में जुट गयी है।गोहरामऊ निवासी रामकुमार मौर्या मेडिकल स्टोर संचालक हैं। उनकी बेटी हाईस्कूल छात्रा सोनी (16) व बेटा अनुराग भलियाखेड़ा स्थित सलोरा इंटर कालेज में पढ़ते हैं।

रोजाना की तरह सोमवार को भाई-बहन स्कूल गये थे। रामकुमार ने बताया कि स्कूल में दो टॉयलेट हैं। जिसका इस्तेमाल स्कूल स्टॉफ करता है। छात्र-छात्राओं को कालेज के बाहर जानाता होता है। दोपहर करीब एक बजे सोनी ने शौच के लिए साथ चलने को कहा लेकिन मास्टर आशीष की डांट से सहमी छात्राओं ने साथ जाने से मना कर दिया।इस पर छात्रा सोनी अकेले ही शौच के लिए स्कूल के बाहर गयी थी। काफी देर तक वापस न आने पर अन्य छात्र-छात्राओं ने टीचर आशीष से सोनी के न आने की बात कही। इस जानकारी पर स्कूल स्टॉफ बाहर आया और खोजबीन शुरू की। इसी बीच राहगीरों ने टीचरों से बताया कि एक छात्रा को वैन सवार अपहरणकर्ता जबरन खींच ले गये हैं। उन लोगों ने दौड़ाने का प्रयास किया लेकिन वैन सवार भाग निकले। यह सुनते ही स्कूल स्टॉफ में हड़कम्प मच गया। स्कूल प्रबंधक राजीव यादव ने अपहृत सोनी के पिता रामकुमार को सूचना देने के साथ ही कंट्रोल रूम पर फोन किया।कॉल रिसीव न होने पर इंस्पेक्टर काकोरी के मोबाइल पर सूचना दी। खबर मिलते ही पीड़ित परिजन स्कूल पहुंचे।

परिजनों का आरोप है कि सूचना देने के तीन घण्टे बाद पुलिस मौके पर पहुंची। पड़ताल के दौरान शौचालय के पीछे बाग में छात्रा का रूमाल व ब्रेसलेट पड़ा मिला। साथ ही मिट्टी में पैर व चप्पल के निशान बने थे। जिसे देखकर ग्रामीण अपहरणकर्ताओं व छात्रा के बीच संघर्ष होने का दावा कर रहे हैं।आनन-फानन में पुलिस ने पिता की तहरीर पर अपहरण की रिपोर्ट दर्ज की। पीड़ित परिजनों का आरोप है कि अगर सूचना पर वक्त रहते पुलिस एक्टिव होती तो अपहरणकर्ता पकड़े जा सकते थे। बताया जा रहा है कि छात्रा सोनी की मां का करीब तेरह साल पहले निधन हो चुका है। पहली पत्नी की मौत के बाद रामकुमार ने दूसरी शादी कर ली थी। पुलिस ने प्रत्यक्षदर्शियों से बात की तो पता चला कि वैन में चार युवक थे। वैन सवार बाहरू चौराहे पर रास्ता पूछ रहे थे। अपहरण की खबर पर ग्रामीणों की भीड़ स्कूल पर जमा हो गयी। नाराज लोग स्कूल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगा रहे थे। आरोप था कि स्कूल में छात्राओं के लिए शौचालय की व्यवस्था नहीं है। इसी बीच कुछ लोगों ने आगरा एक्सप्रेस-वे पर बास-बल्ली लगाकर रोड जाम कर दी।

पुलिस के समझाने के बाद ग्रामीण शांत हुए। इंस्पेक्टर काकोरी प्रमोद कुमार मिश्रा ने बताया कि अपहृत की बरामदगी व आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें गठित की गयी हैं। पुलिस प्रेम-प्रसंग व रंजिश समेत सभी बिंदुओं पर पड़ताल कर रही है। पुलिस ने घरवालों से बात की तो पता चला कि अपहृत छात्रा सोनी के पास कोई भी मोबाइल नहीं है। पुलिस ने आगरा एक्सप्रेस टोल प्लाजा के सीसी कैमरों के फुटेज खंगाले। फुटेज में एक संदिग्ध सफेद वैन सर्विस रोड से गुजरते कैद हुई है। वैन में नम्बर प्लेट न होने से पुलिस निराश हो गयी। इंस्पेक्टर का कहना है कि मामले की पड़ताल की जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper