दिन-रात्रि टेस्ट के लिए भारत-बांग्लादेश ने गुलाबी गेंद से किया अभ्यास

कोलकाता। भारत और बांग्लादेश की टीमों ने शुक्रवार से यहां होने वाले पहले दिन-रात्रि टेस्ट मैच के लिए यहां गुलाबी गेंद से जमकर अभ्यास किया। दोनों क्रिकेट टीमें अपने पहले दिन-रात्रि के टेस्ट को खेलने मंगलवार को ही कोलकाता पहुंच गई थीं। मेहमान बांग्लादेश टीम को सुबह 10 बजे से 1 बजे तक ईडन गाडर्न मैदान पर गुलाबी गेंद से अभ्यास करने का समय दिया गया जबकि मेज़बान भारतीय टीम इसके बाद यहां पर अभ्यास के लिए उतरी।

इससे पहले वर्ष 2016 में इस मैदान पर मोहन बगान और भवानीपुर के बीच चार दिवसीय घरेलू मैच का आयोजन किया गया था जो इस मैदान पर गुलाबी गेंद से खेला गया पहला मैच था। बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) द्वारा आयोजित इस मैच में मोहम्मद शमी ने बगान की ओर से 7 विकेट लिए थे। क्रिकेट विशेषज्ञों के अनुसार यह मैदान गुलाबी गेंद से मैच आयोजित करने के लिये पूरी तरह उपयुक्त मैदान है जहां दोनों ही टीमें पहली बार इस प्रारूप में खेलने उतरेंगी। वहीं कैब क्यूरेटर सुजान मुखर्जी ने कहा कि वह गुलाबी गेंद से इस पिच पर खेलने को लेकर काफी उत्साहित हैं और उनका मानना है कि दोनों ही टीमों को पिच पर फायदा पहुंचेगा।

मुखर्जी ने कहा कि आमतौर पर यहां क्रिकेट लाल गेंद से और सीमित ओवर में सफेद गेंद से खेला जाता है। लेकिन गुलाबी गेंद के लिये भी ईडन गाडर्न की पिच तैयार है। बीसीसीआई के मुख्य क्यूरेटर आशीष भौमिक भी पहले गुलाबी गेंद के मुकाबले के लिये शहर में मौजूद हैं और उन्होंने तैयारियों तथा पिच का भी जायजा लिया। गुलाबी गेंद पर अधिक रोगन होने के कारण इसके स्विंग अधिक करने की उम्मीद है, ऐसे में तेज़ गेंदबाज़ों को इससे फायदा मिल सकता है। दोनों टीमों के बीच पहले मैच में मोहम्मद शमी, उमेश यादव और इशांत शर्मा काफी सफल रहे थे। ऐसे में दूसरे मैच में भी इनके प्रदर्शन पर निगाहें रहेंगी।

भारत ने इंदौर में हुये पहले मैच में बांग्लादेश को हराकर 1-0 की बढ़त हासिल कर ली है। अब उसका इरादा इस मैच केा जीतकर सीरीज अपने नाम करना रहेगा। वहीं दूसरी ओर बांग्लादेश की टीम भी इस मैच को जीतकर वापसी करना चाहेगी। इस मैच को लेकर दर्शकों में जबरदस्त उत्साह है और अधिकतर टिकट बिक गये हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper