दिमाग को 10 गुना ज्यादा तेज बनाने के लिए रोज खाइए यह चीज

जब भी एक स्वस्थ शरीर पर फिटनेस की बात आती है तो हर व्यक्ति केवल अपने शरीर की फिजिकल फिटनेस के बारे में ही सोचता है. लेकिन स्वस्थ शरीर के साथ-साथ स्वस्थ मस्तिष्क का होना भी बहुत ज्यादा आवश्यक है. क्योंकि एक स्वस्थ दिमाग वाला इंसान जीवन के हर स्तर पर अपनी एक अलग पहचान बनाने में सफल होता है और अपनी जिंदगी के हर छोटे या बड़े लक्ष्य को बड़ी आसानी से हासिल कर लेता है. कुछ लोगों की याददाश्त बहुत कमजोर होती है, जिसकी वजह से वह चीजों को बार-बार भूल जाते हैं. अक्सर किसी भी चीज को याद करने में उन्हें बहुत मुश्किल आती है.

चलिए बात करते हैं नुस्खे की, इसे बनाने के लिए हमें जरुरत होगी अलसी, कद्दू के बीज, सूरजमुखी के बीज, सौंफ और मिश्री की. सूरजमुखी के बीज के अंदर विटामिन ई ऑफ़ एमिनो एसिड की मात्रा अधिक होती है जो कि हमारे दिमाग की थकावट को दूर करके हमारी मेमोरी को शार्प बनाती है.

रोजाना इसका सेवन करने से हमारे ब्रेन का कॉग्निटिव फंक्शन एक रूप होता है. जिससे कि मुश्किल से मुश्किल चीजें भी हम बड़ी आसानी से समझने लग जाते हैं. इसमें उसके बनाने के लिए सौ ग्राम अलसी में सौ ग्राम कद्दू के बीज, सूरजमुखी के बीज, 50 ग्राम सौंफ और 50 ग्राम मिश्री मिलाकर सारी चीजों को मिक्सर में अच्छी तरह पीसकर इसका एक पावडर तैयार कर लें और इसका रोजाना सेवन करे.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper