दिल्ली पुलिस और वकीलों के विवाद में दिल्ली हाईकोर्ट का बार काऊंसिल को नोटिस, गृह मंत्रालय की भी एंट्री

दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने प्रदर्शनकारी जवानों से काम पर लौटने की अपील की है लेकिन पुलिसकर्मियों ने अपनी 10 मांगें रखी हैं और यह भी कहा है कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गईं तो ये लोग अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे और पुलिस मुख्यालय से इंडिया गेट तक मार्च करेंगे और आगे भी प्रदर्शन को जारी रखेंगे। प्रदर्शन के कारण मुख्यालय के सामने की सड़क पर आईटीओ पर लंबा जाम लग गया है। यमुना पार जाने वाले वाहन अन्य मार्ग से होकर गुजरे।

Delhi Police Protest LIVE: प्रदर्शनकारियों के समर्थन में उतरा रिटायर्ड पुलिस वेलफेयर एसोसिएशन

उधर, इस मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय भी एक तरह से कूद चुका है, जिसके तहत दिल्ली पुलिस आती है। गृह मंत्रालय ने हाईकोर्ट में याचिका डालकर रविवार को उसके आदेश पर स्पष्टीकरण की मांग की है। दिल्ली हाईकोर्ट ने बार काउंसिल और दिल्ली बार एसोसिएशन को नोटिस जारी किया है। इस मामले में कल फिर सुनवाई होगी। केंद्र ने आरोपी वकीलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

दिल्ली पुलिस कर रही प्रदर्शन

सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस के सीनियर अफसरों ने सभी पुलिसकर्मियों को मैसेज भिजवाया है की अब वे कोई प्रोटेस्ट में ना जाएं वरना उनके खिलाफ एक्शन होगा। ये मैसेज सब डिस्ट्रिक्ट के डीसीपी ने अपने अपने पुलिस कर्मियों को भिजवाया है, बावजूद इसके सभी पुलिस कर्मी प्रोटेस्ट में लगातार बने हुए हैं। दिल्ली हाई कोर्ट ने बार काउंसिल और दिल्ली बार एसोसिएशन को नोटिस जारी किया है। इस मामले में कल फिर सुनवाई होगी। केंद्र ने आरोपी वकीलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper