देर से शादी करने के है कई फायदे

न्यूर्याक: अगर आपको बुजुर्ग जन जल्दी शादी प्लान करने की राय दें तो आप उन्हें देर शादी करने के फायदा बता सकता है। देर से शादी करने से आप फाइनेंनशियल ज्यादा स्टॉग हो चुके होते हैं। करियर से लेकर अच्छा पैसा कमाने की स्थित भी बेहतर हो चुकी होती है। वक्त बीतने के साथ आप उतने बेवकूफ नहीं होते हैं जितने कम उम्र में हुआ करते थे। कुछ लोगों को जिम्मेदारी का एहसास उम्र के साथ नहीं बल्कि समय के साथ होता है। ऐसे में आपके पास काफी समय होता है कि आप समय के साथ मिली समझदारी का उपयोग कर अपने भविष्य और करियर के बारे में सोच सकें।

देर से शादी करने का सबसे अच्छा फायदा ये होता है कि आपको खुद को पहचानने और जानने का पूरा मौका मिलता है। आप खुद से और दूसरों से आखिर क्या चाहते हैं आपको इस सवाल का जवाब खुद-ब-खुद मिल जाता है। आप भविष्य में क्या करना चाहते हैं आप तसल्ली से यह सोच पाते हैं। इसके अलावा जैसे-जैसे वक्त बदलता है इंसान की सोच में भी बदलाव आता है। जरूरी नहीं की 20 साल की उम्र में आपको जो चीज अच्छी लगे वो आपको 40 की उम्र में भी उतनी ही पसंद आए। अगर आप देर से शादी करते हैं तो आपको पूरा मौका मिलता है कि आप अपने सपनों को पूरा कर पाएं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper