देश की इन जगहों पर घूमने से पहले लेनी पड़ती है इजाजत, बनवाना पड़ता है परमिट

नई दिल्ली: भारत एक लोकतांत्रिक देश देश है जहाँ व्यक्ति को अपने अधिकार दी गए हैं जिनमें से एक घूमने की आजादी भी शामिल है। इसके अंतर्गत व्यक्ति देश के किसी भी कोने में बिना किसी रोक-टोक के घूम सकता है। लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि देश में कुछ जगहें ऐसी हैं जहाँ घूमने के लिए इजाजत लेनी पड़ती है परमिट बनवाना पड़ता हैं। जी हाँ, आप इन जगहों पर बिना अनुमति के नहीं घूम सकते हैं। तो अगर आप घूमने का प्लान बना रहे हैं तो इससे पहले इन जगहों के बारे में जान ले।

सिक्किम

सिक्किम तीन देश की सीमाओं से घिरा हुआ है। यहां जाने से पहले भारतीयों को परमिट लेना पड़ता है। तसोमगो लेक, नाथूला, डजांग्री, गोएचाला ट्रेक, यमथांग, युमेसमडॉन्ग, थांगु, चोपटा वैली और गुरुडॉन्गमर लेक पर एंट्री लेने के लिए आपको परमीशन की जरुरत होती है। यह परमिट बागडोगरा एयरपोर्ट, सिलीगुड़ी, कोलकाता और नई दिल्ली से लिया जा सकता है।

नागालैंड

नागालैंड के कोहिमा, डिमापुर, मोकोकचुंग, वोखा, मॉन, फेक, किफिरे जैसी जगह पर आपको परमिट की जरुरत पड़ेगी। यह परमिट आपको कोहिमा, डिमापुर, मोकोकचुंग, नई दिल्ली, कोलकाता और शिलॉन्ग के डिप्टी कमिशनर ऑफिस से मिलेगा।

मिजोरम

अपने सुहावना मौसम ड्रामेटिक लैंडस्केप के लिए प्रसिद्ध मिजोरम में कई तरह के आदिवासियों की प्रजातियों का ठिकाना है। मिजोरम के फावांगपुई हिल्स, वनतावांग फॉल, पालक लेक, चिंग पुई हेरिटेज साइट और लोकल डांस पूरे विश्व में फेमस है। लेकिन इन सबको करीब से देखने के लिए आपको अनुमति की जरुरत पड़ेगी। यह परमिट शिलॉन्ग के लेंगपुई एयरपोर्ट पर पहुंचने पर मिल जाता है।

लद्दाख

अपनी खूबसूरती और एडवेंचर के लिए फेमस लद्दाख हर कोई जाना चाहता है। इससे पहले कि आप वहां जाने का प्लान बनाएं तो हम आपको बता दें कि पाकिस्तान और चीन की सीमाओं से सटे होने के चलते यहां कई ऐसी जगह हैं जहां आम लोगों को जाने की अनुमति नहीं है। खासतौर पर चांगथांग, हनले, लोमा, मरसीमिक ला और चुमुर लद्दाख जैसी कई जगहें हैं जहां केवल भारतीय आर्मी को जाने का अधिकार है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper