देश में बारिश और बाढ़ से 187 की मौत, उत्तराखंड और जम्मू में बादल फटे-भारी तबाही

देहरादून: देश के विभिन्न हिस्सों में बारिश, बाढ़ एवं भूस्खलन की घटनाओं में मरने वालों की संख्या 187 तक पहुंच गयी है जबकि 108 अन्य लापता हैं। बारिश, बाढ़ एवं भूस्खलन के कारण कई लाख लोग प्रभावित हुए हैं और उनमें अधिकतर लोगों को राहत शिविरों में विस्थापितों के समान जिंदगी व्यतीत करना पड़ रहा है। सेना समेत विभिन्न सुरक्षा एवं बचाव एजेंसियां राहत तथा बचाव कार्य में जुटी हुई हैं। केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र तथा गुजरात में स्थिति गंभीर बनी हुई है। इन राज्यों के कुछ इलाकों में जल का स्तर घटने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है। केरल और कर्नाटक के कुछ हिस्सों में बाढ़ और भूस्खलन के कारण सबसे अधिक नुकसान हुआ है। अब तक केरल में सबसे अधिक 76 लोगों, कर्नाटक में 42, महाराष्ट्र में 30, गुजरात में 29, उत्तराखंड में आठ तथा हिमाचल प्रदेश में दो लोगों की मौत हो चुकी है।

उत्तराखंड के चमोली जिले में घाट क्षेत्र में सोमवार तड़के भारी बारिश के दौरान तीन अलग-अलग गांवों में हुई भूस्खलन की घटनाओं में तीन मकान ढह गए और मलबे के नीचे एक महिला और उसकी नौ माह की बेटी सहित छह व्यक्ति जिंदा दफन हो गए। यहां राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार, भूस्खलन का मलबा घाट क्षेत्र के बांजबगड, अलीगांव और लांखी गांवों में तीन मकानों पर गिर गया जिससे वे ढह गए और उनमें रहने वाले उसमें फंस गए। सभी छह व्यक्तियों की दम घुटने से मौत हो गई। मरने वालों में एक को छोडकर सभी महिलाएं हैं।

रूपा देवी तथा उसकी नौ माह की पुत्री चंदा बांजबगड गांव में मारे गए जबकि 21 वर्षीया नौरति की मृत्यु अलीगांव में और अन्य तीन – कुमारी आरती, कुमारी अंजलि और अजय – लांखी गांव में मारे गए। सभी के शव मलबे से बरामद कर लिए गए हैं। इसके साथ ही इन मकानों में मौजूद 40 बकरियां और दो बैल भी मारे गए। उधर, जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में भूस्खलन के दौरान एक चट्टान की चपेट में आने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गये। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि महोर क्षेत्र में लार गांव का यह परिवार रविवार शाम को पास के जंगली इलाके में गया था, तभी भूस्खलन की घटना हुई। उन्होंने बताया कि वे एक बड़े पत्थर की चपेट में आ गये जिससे तीनों की मौत हो गयी और दो अन्य घायल हो गए।

अजीत डोभाल ने हवाई सर्वेक्षण कर लिया सुरक्षा व्यवस्था का जायजा, शांतिपूर्ण ढ‍ंग से मनाई गई ईद

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper