नशीली चाय पिलाकर बहन की सहेली से रेप, बनाया वीडियो

पारा-लखनऊ: पारा स्थित अशोक विहार कालोनी में सहेली के घर गयी युवती को नशीला चाय पिलाकर सहेली के भाई ने दुष्कर्म किया और वीडियो भी बना लिया। विरोध करने पर सहेली व भाई ने शादी का झांसा देकर कराया। इसके बाद दो माह तक आरोपित पीड़िता की आबरु से खेलता रहा। दबाव बनाने पर आरोपित ने शादी से इंकार कर दिया। पीड़िता ने पारा थाने में शिकायत की। इंस्पेक्टर त्रिलोकी सिंह का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है।

कृष्णानगर निवासी 23 वर्षीय युवती बीते 7 जुलाई को पारा के अशोक विहार कालोनी में सहेली से मिलने के लिए उसके घर आई थी। आरोप है कि जब वह सहेली के घर पहुंची तो सहेली का भाई अमन वर्मा अकेला था। अमन वर्मा ने कुछ देर में बहन के आने की बात कहकर युवती को चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया। जिसके बाद वह बेहोश हो गई। बेहोशी का फायदा उठाकर अमन ने युवती के साथ दुष्कर्म किया। यही नहीं अश्लील वीडियो भी बना लिया। होश में आने पर पीड़िता ने सहेली को आपबीती बतायी।

इस पर सहेली व अमन ने शादी का भरोसा दिया। इसपर वह शांत हो गयी। कानपुर रोड स्थित एक रेस्टोरेंट में काम करने वाला अमन बीते 11 अगस्त को पीड़िता को वहां ले गया और फिर दुष्कर्म किया। पीड़िता ने शादी का दबाव बनाया तो अमन ने आश्वासन दिया लेकिन फिर 5 सितम्बर को मुकर गया। आरोपित ने धमकाया कि अगर थाने पर शिकायत की तो वह उसका वीडियो वॉयरल कर देगा। पीड़िता ने हिम्मत जुटायी और शिकायत लेकर पारा थाने पहुंची। पुलिस ने तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper