निर्भया कांड: दोषी विनय ने बनाई पेंटिंग, डायरी लिखी और शीर्षक रखा ‘दरिंदा’

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में शनिवार को निर्भया गैंगरेप पर सुनवाई जारी है। दरअसल, निर्भया गैंगरेप मामले में दोषी पवन, अक्षय और विनय ने एक और याचिका दायर की है। तीनों दोषियों के वकील एपी सिंह ने तिहाड़ जेल प्रशासन पर कई आरोप लगाते हुए पटियाला हाउस कोर्ट में ये याचिका दायर की है। वकील एपी सिंह ने याचिका में कहा कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने अभी तक उन्हें दोषी पवन, अक्षय और विनय के दस्तावेज मुहैया नहीं कराये हैं। इसलिए क्यूरेटिव पिटीशन और राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजने में देरी हो रही है।

आपके बता दें कि जेल में रहते हुए निर्भया के दोषी विनय ने एक डायरी लिखी है। सरकारी वकील का कहना है कि डायरी का नाम है ‘दरिंदा डायरी’। दोषी विनय पेटिंग भी बनाता है। आज सुनवाई के दौरान जेल अधिकारियों की ओर से डायरी और पेटिंग कोर्ट में पेश की गई। सरकारी वकील ने कहा कि दोषी के वकील को पेंटिंग और डायरी सौंपने के लिए तैयार हैं और उनके पास इसके अलावा और कोई दस्तावेज नहीं है।

दोषियों की तरफ से पेश वकील ने कहा कुछ दस्तावेज कल रात 10.30 बजे दिए गए है, लेकिन दोषी विनय की केस डायरी अभी तक नहीं दी गई है। वकील ने कहा कि केस डायरी 160 पेज की है वो नहीं मिली है। इसके साथ ही उसकी मेडिकल रिपोर्ट भी नहीं दी गयी है और विनय दिल्ली लोक नायक अस्पताल में 10 दिन था वो भी दस्तावेज नहीं मिला है।

बताते चलें कि दोषियों के वकील ने कोर्ट में बताया, ‘विनय से मैं जल्द ही मिला था लेकिन उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं है। जेल प्रशासन उसका ध्यान रख रहा है लेकिन बावजूद इसके उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं है। वकील ने कहा कि जेल नंबर 14 मंडोली में पवन का सिर फोड़ दिया गया था। सितंबर 2013 में यह घटना हुई थी उसकी भी रिपोर्ट नहीं दी गयी। उस समय पवन को गुरु तेग बहादुर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वकील ने आरोप लगाया कि विनय को जेल के अंदर स्लो प्वाइजन दिया गया है। उसके हाथ में फ्रैक्चर हुआ था। विनय की हालत ठीक नहीं है। कहा ये भी जा रहा है कि वे 7 दिन से हड़ताल पर हैं।मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद चीजें साफ हो जाएंगी।

वकील ने बताया कि जेल में रहते हुए विनय ने कुछ पेटिंग भी बनाई है। तिहाड़ हाट में उसकी पेंटिंग्स की बिक्री भी हुई। मैंने उनके बारे में जानकारी चाहता हूं कि आखिर उसकी पेंटिंग्स से क्या कमाई हुई। विनय ने 11 पेंटिंग बनाई और 19 पन्नों की ‘दरिंदा’ डायरी भी लिखी। जेल प्रशासन ने दोषी विनय की पेटिंग और उसकी डायरी दरिंदा को भी कोर्ट में पेश किया। इसके बाद कोर्ट ने तिहाड़ जेल से कहा कि सभी दस्तावेज दोषियों को दे दिए जाएं। इस पर जेल प्रशासन ने कहा कि सभी दस्तावेद सौंप दिए गए हैं और इसके साथ ही इस अर्जी का निपटारा हो गया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper