पूरे गांव में एक भी मर्द नहीं, फिर भी महिलाएं होती हैं गर्भवती, कारण जानकर हो जाएंगे पागल

नई दिल्ली: आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे है जहां का किस्सा सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। जिस गांव की बात हम कर रहे हैं वो केन्या के समबुरु का उमोजा गांव है। गांव के बारे में आपको सुनकर हैरानी होगी की यहां कोई मर्द नहीं रहता फिर भी यहां की महिलाएं गर्भवती हो जाती हैं। इस गांव में दरअसल मर्दों के आने पर पाबंदी है।

दरअसल, ये पाबंदी आज की दो चार साल पहले नहीं लगाई गई थी बल्कि 27 साल पहले यहां मर्दों के आने पर पाबंदी लगाई गई थी। साल 1990 में इस गांव को 15 ऐसी महिलाओं के रहने के लिए चुना गया, जिनके साथ ब्रिटिश जवानों ने रेप किया था।

पहले तो इस गांव में 15 महिलाएं ही रहा करती थीं लेकिन सिर्फ यही महिलाएं ही नहीं थीं जो पुरुषों की सताई हुई थीं। इसके बाद ये गांव पुरुषों की हिंसा का शिकार हुई महिलाओं की रहने की जगह बन गई। जिसके कारण ही इस गांव में रेप, बाल विवाह, घरेलू हिंसा और खतना जैसी तमाम हिंसा झेलनी वाली महिलाओं ने इस गांव में पुरुषों का आना बैन कर दिया है।

अफ्रीका में सिंगल-सेक्स कम्युनिटी वाला ये अकेला गांव है, लेकिन आपको बता दें कि यह एक छोटा सा गांव है जिसमें आज के आंकड़े देखे जाएं तो करीब 250 महिलाएं आपने बच्चों के साथ रहती हैं। इस गांव में महिलाओं ने प्राइमरी स्कूल, कल्चरल सेंटर और सामबुरू नेशनल पार्क देखने आने वाले टूरिस्ट्स के लिए कैंपेन साइट भी चलाया है।

जिसके बाद कई देशों से लोग इस गांव को देखने के लिए आते हैं, जिसकी इन महिलाओं ने फीस भी रखी है।साथ ही यहां की महिलाएं पारंपरिक ज्वैलरी भी बनाकर बेचती हैं। इस गांव की सीमा पर कांटों की फेसिंग की गई है। यहां की महिलाएं पार्क और गांव घूमने आने वाले टूरिस्टों से पार्क की तय फीस लेती हैं, जिससे वह बिना किसी पुरुष की मदद के अपने बच्चों का पालन पोषण करती हैं।

बताया जाता है कि इस गांव में मर्दों के आने पर पाबंदी लगे होने के बाद भी यहां पर रहने वाली महिलाएं गर्भवती होती हैं, वे शारीरिक संबंध बनाने के लिए रात में गांव से बाहर चोरी छुपे जाती हैं और पसंदीदा मर्द के साथ संबंध बनाते हुए गर्भवती हो जाती हैं। तो जानी आपने कितनी अजीबोगरीब गांव की अनोखी कहानी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper