पेट गैस से तुरंत राहत पाने के लिए खाए यह चीज

आज बहुत सारे लोगो की एक गंभीर समस्या, गैस की समस्या बहुत तेज़ी से बढ़ रही है। कई बार ऐसा होता है कि भूखा रहने से या ज्यादा तला भुना हुआ अथवा ज्यादा तेज मिर्च मसाले वाला खाना, खाने से आपको पेट में गैस की और पेट फूलने की समस्या हो जाती है। आज हम आपको कुछ उपाय बताने जा रहे है जिससे आपको गैस की समस्या से तुरंत राहत मिलेगी।

kali mirch ke fayde

  • ज्यादा खाने, ज्यादा शराब पीने, कैंडी और गम चबाने और धूम्रपान से पेट में ज्यादा गैस बनती है। अगर आप ये काम अक्सर करते हैं, तो पेट का ख़याल करते हुए उन्हें कम कर दें।
  • चलती कार में आग लगने से मां व दो बच्चियां जिंदा जलीं
  • लस्सी का सेवन आपको करना चाहिए। इसे पिने से आपकी पाचन शक्ति मजबूत हो जाती है और इसमे मौजूद लैक्टिक एसिड गैस की समस्या नहीं होने देती।
  • काली मिर्च को पेट की अचूक दवा कहा जाता है। इसके सेवन से पाचन शक्ति मजबूत होती है और गैस्ट्रिक समस्या से दूर रखती है।
  • गैस्ट्रिक की समस्या से दूर रहने के लिए आपको खाना खाने के बाद सोंफ़ जरुर खाना चाहिए।

दोस्तों उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा। ऐसे ही पोस्ट लगातार पाने के लिए हमें फॉलो जरुर करे। और इस पोस्ट को लाइक और शेयर जरुर करे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper