पोलैंड : भूकम्प से धंसी खान, 3 खनिकों की मौत

वॉरसों। दक्षिणी पोलैंड में सोमवार की देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकम्प के झटकों के कारण एक खान के धंसने की खबर मिली है। जिसमें तीन कर्मियों की दबकर मौत हो गई और 6 अन्य घायल हो गए। पोलिश खनन समूह के प्रवक्ता ने स्थानीय मीडिया को बताया कि सोमवार देर रात करीब दो बजे मुर्की-स्टैज़िक खान में भूकम्प के झटके महसूस किए गए, जिससे वह धंस गई।

भूकम्प की तीव्रता रिएक्टर पैमाने पर 2.66 मापी गई। स्थानीय मीडिया की खबरों के अनुसार खान में काम कर रहे नौ में से तीन लोगों की मौत हो गई। उनमें से तीन सुरक्षित बच निकले और तीन अन्य को बचावकर्मियों ने बाहर निकाला। घायल हुए छह लोगों का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि खनन विशेषज्ञ और जांचकर्ता घटना के कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मैतेयूज मोरावेस्की ने पीड़ितों को विशेष पेंशन देने का फैसला किया है।

मध्य फिलीपींस में मंगलवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। रिएक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 5.9 आंकी गई। स्थानीय मीडिया से आ रही खबरों के अनुसार, पूर्वी समर प्रांत की राजधानी बोरोंगन सिटी में भी भूकंप का झटके महसूस किए गए। फिलीपीन इंस्टीट्यूट ऑफ ज्वालामुखी और सीस्मोलॉजी (फिवोलकस) ने कहा कि भूकंप लीला शहर से 41 किमी दक्षिण-पूर्व में 551 किमी की गहराई पर स्थित टेम्पलर में 12:59 बजे आयाफिलहाल इससे किसी के भी हताहत होने या संपत्ति को नुकसान का कोई समाचार नहीं है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper