प्रगति के लिए मनुष्य के जीवन में अनुशासन का होना आवश्यक है: मुख्यमंत्री

लखनऊ ब्यूरो। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रगति के लिए मनुष्य के जीवन में अनुशासन का होना आवश्यक है। अनुशासन ही व्यक्ति को महान बनाता है। उन्होंने शिक्षा पर विशेष बल देते हुए कहा कि शिक्षित व्यक्ति ही सुदृढ़ एवं सशक्त राष्ट्र व समाज का निर्माण कर सकता है। शिक्षा के साथ-साथ खेलों का भी स्वास्थ्य के दृष्टिगत विशेष महत्व है इसलिए बच्चे पढ़ाई के साथ-साथ खेल भावना को भी विकसित करें।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उक्त विचार मंगलवार को गोरखपुर के एमपी इंटर कालेज के प्रांगण में आयोजित महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद संस्थापक सप्ताह समारोह के उद्घाटन के अवसर पर व्यक्त किए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर परउपस्थित थे। इस अवसर पर महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद की लगभग 40 शिक्षण संस्थाओं के बालक बालिकाओं द्वारा शोभा यात्रा निकाली गयी। बताया गया कि यह समारोह 04 दिसम्बर से प्रारम्भ होकर 10 दिसम्बर तक आयोजित होगा।

गोरखपुर में महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद संस्थापक सप्ताह समारोह मना

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज यह परिषद 86वां संस्थापक समारोह आयोजित कर रही है। पूर्वी उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी शैक्षणिक संस्था अपने संस्थापकों के प्रति श्रद्धा एवं सद्भाव को व्यक्त करने के लिए इस समारोह का आयोजन प्रतिवर्ष करती है। उन्होंने महाराणा प्रताप के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हम सबको उनके आदर्शों को अपनाना चाहिए। यह शैक्षणिक संस्थान छात्र-छात्राओं को शिक्षा के साथ-साथ रोजगारपरक प्रशिक्षण दे रहा है, जिससे छात्र व् छात्राएं स्वावलम्बन की दिशा में अग्रसर हो सके।

मुख्यमंत्री ने बताया कि वर्ष 1932 में इस शैक्षणिक संस्था की स्थापना हुई थी। आज इसके लगभग 48 शैक्षणिक संस्थान संचालित हैं, जिसमें लगभग 50 हजार छात्र छात्राये अध्ययनरत हैं। महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद बेहतर शिक्षा प्रदान कर रही है।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह ने इस गौरवशाली आयोजन के प्रति धन्यवाद देते हुए कहा कि महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद अपनी विशिष्ट परम्परा को आगे बढ़ाने की दिशा में बेहतर कार्य कर रही है जो नई पीढ़ी के निर्माण के लिए उपयोगी है। उन्होंने कहा कि जीवन में शिक्षा का बड़ा महत्व है, इसके बिना विकास की परिकल्पना नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता है, भविष्य निर्माण के लिए यह आवश्यक है। पढ़ाई के साथ-साथ खेल की भी जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। शिक्षित व्यक्ति ही बेहतर समाज एवं राष्ट्र का निर्माण करता है।

डाॅ. सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार विकास की ओर प्रयासरत है, जिससे राज्य में परिवर्तन आया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने समर्थन मूल्य के तहत गेहूं/धान खरीद की व्यवस्था की है, गन्ना मूल्य का भुगतान, इन्फ्रास्ट्रचर डेवलपमेन्ट, कानून व्यवस्था को बेहतर करने का काम किया है, जिससे विकास में गति आयी है।

विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रदेश के खेल मंत्री चेतन चौहान ने अपने सम्बोधन में विद्यार्थियों से कहा कि कार्यों का उद्देश्य निश्चित होना चाहिए अर्थात पढ़ाई मन से करें तथा उत्तम स्वास्थ्य के दृष्टिगत खेल को भी अपने जीवन में अपनाएं। उन्होंने कहा कि महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद बेहतर शैक्षणिक माहौल प्रदान करने की दिशा में अच्छा कार्य कर रही है।

इस अवसर पर विधायक डाॅ. राधामोहन दास अग्रवाल एवं अन्य जनप्रतिनिधिगण सहित शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper