बंद हो रहा है Windows 7, यूजर्स को माइक्रोसॉफ्ट ने दी यह सलाह

नई दिल्ली: अगर आप भी माइक्रोसॉफ्ट का विंडोज 7 इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए बुरी खबर है। कंपनी ने बताया है कि वह अपने सबसे लोकप्रिय विंडोज 7 का सपोर्ट खत्म कर रही है। बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट ने साल 22 अक्टूबर, 2009 में विंडोज 7 को लॉन्च किया था, लेकिन अब कंपनी इसके लिए कोई अपडेट जारी नहीं करेगी। ऐसे में विंडोज 7 में किसी प्रकार के बग को फिक्स करना मुश्किल हो जाएगा।

माइक्रोसॉफ्ट के सपोर्ट पेज से मिली जानकारी के मुताबिक माइक्रोसॉफ्ट ने 10 साल तक सपोर्ट देने का वादा किया था। समयसीमा खत्म होते ही कंपनी 14 जनवरी, 2020 को इसके लिए सपोर्ट बंद कर देगी। देश में ज्यादातर कंप्यूटर्स और एटीम मशीनों में विंडोज 7 का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में अगर इसके अपडेट्स मिलने बंद हो जाएंगे तो इससे सिक्योरिटी इश्यू हो सकते हैं।

माइक्रोसॉफ्ट ने दी यह सलाह
माइक्रोसॉफ्ट का कहना है कि एक्सटेंडेड सपोर्ट के खत्म होने के बाद कंप्यूटर काम करना बंद नहीं करेंगे, लेकिन यूज़र्स को इसमें सिक्योरिटी अपडेट्स मिलने बंद हो जाएंगे। इसका मतलब Windows7 पर चल रहे डिवाइसेज में वायरस और मालवेयर का खतरा बहुत बढ़ जाएगा। कंपनी ने यूज़र्स को सलाह दी है कि सिक्योरिटी रिस्क और वायरस से बचने के लिए वह खुद को Windows 10 में अपग्रेड कर लें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper