बतौर कप्तान 4,००० रन बनाने वाले पहले भारतीय बने विराट

नई दिल्ली. भारत भले ही इंग्लैंड से टेस्ट सीरीज हार गया, लेकिन साउथैम्पटन टेस्ट भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए खास बन गया। विराट ने इस मैच में 46 और 58 रन बनाते ही कप्तान के तौर पर सबसे तेज 4,००० रन बनाने वाले पहले भारतीय कप्तान बन गये। उन्होंने यह उपलब्धि 65 पारियों में हासिल की। इसके पहले बतौर कप्तान 3,454 रन बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी आगे चल रहे थे। धोनी ने 6० टेस्ट में कप्तानी की थी। वह टेस्ट मैच से संन्यास ले चुके हैं। धोनी के बाद सुनील गावस्कर आते हैं, जिन्होंने कप्तान के तौर पर 2,483 रन बनाए थे।
बतौर कप्तान टेस्ट में 4,००० रन बनाने वाले विराट 1०वें क्रिकेटर बने हैं। पहले सबसे कम पारियों में 4,००० रन बनाने वाले टेस्ट कप्तान बनने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा के नाम था। लारा ने यह उपलब्धि 71 पारियों में हासिल की थी। विराट के अलावा ग्रीम स्मिथ (द. अफ्रीका), एलन बॉर्डर, रिकी पोंटिंग, ग्रेग चैपल (ऑस्ट्रेलिया), क्लाइव लॉयड, ब्रायन लारा (वेस्टइंडीज), स्टीफन फ्लेमिंग (न्यूजीलैंड), एलेस्टर कुक (इंग्लैंड) मिस्बाह उल-हक (पाकिस्तान) भी बतौर कप्तान 4,००० से ज्यादा रन बनाये हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper