बहुमुखी आईएएस

बहुमुखी प्रतिभा के धनी आईएएस नीतीश्वर कुमार की अब आप किताब भी पढ़ सकते हैं। उनकी पहली पुस्तक ‘कह दो ना’ का विमोचन 9 फरवरी को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान के प्लूटो हॉल में किया गया। इस दौरान आरजे विपुल ने एक इंटरव्यू के माध्यम से आईएएस नीतीश्वर कुमार के प्रशासनिक सेवा से गीतकार और लेखक बनने के सफर के बारे में बताया। कार्यक्रम में मंडलायुक्त मुकेश मेश्राम ने बताया कि बौद्धिक क्षमता के धनी आईएएस नीतीश्वर कुमार साहित्यिक रुचि भी रखते हैं।

उन्होंने एक भोजपुरी फिल्म का निर्देशन भी किया है। इस फिल्म में उन्होंने गीत भी लिखे हैं और फिल्म की पटकथा व कहानी भी लिखी है। उनके गीत व गजलों को कई बड़े गायकों ने अपनी आवाज दी है। इस मौके पर नीतीश्वर कुमार ने कहा कि इस किताब में कविताओं को चार संग्रह मे बांटा है जिसमें नया दौर, सिलसिला, शेर-ओ-शायरी और सूफियाना शामिल है। कार्यक्रम में डॉ. समीर त्रिपाठी, आईएएस आलोक सिन्हा, एडीजी-अभियोजन आशुतोष पांडे, लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति आलोक राय आदि मौजूद थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper