बाजारों में बढ़ती भीड़ को पुुुलिस करेगी कोरोना से खबरदार

लखनऊ: लाकडाउन में ढील देने के बाद सड़कों,बाजारों में उमड़ रही भीड़ से कोरोना संक्रमण के फैलने के खतरे के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार ने जागरूकता अभियान को और धार देने एवं निगरानी समितियों को और चौकन्ना रहने के निर्देश दिये हैं।

लाकडाउन की समीक्षा बैठक मे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि बाजारों में नियमित फुट पेट्रोलिंग की जाने की जरूरत है ताकि कहीं भीड़ एकत्र न होने पाए। हाई-वे तथा एक्सप्रेस-वे पर पीआरवी 112 के माध्यम से सघन पेट्रोलिंग की जाएगी। पेट्रोलिंग के दौरान पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से लोगों को कोरोना से बचाव के सम्बन्ध में जागरूक किया जाये। सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन सुनिश्चित कराया जाए।

उन्होने कहा कि शहरी और ग्रामीण इलाकों में निगरानी समितियों के सक्रिय रहने से संक्रमण को रोकने में सहायता मिल रही है। उन्होंने प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास तथा प्रमुख सचिव नगर विकास को निगरानी समितियों के कार्यों की नियमित माॅनिटरिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने पुलिस महानिदेशक को ग्राम प्रहरियों को और सक्रिय करने के निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी रेलवे स्टेशनों पर सम्बन्धित जिलाधिकारी सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करें। यात्रियों की नियमित तौर पर स्क्रीनिंग हो। मेडिकल स्क्रीनिंग की सफलता के लिए यह आवश्यक है कि रेलवे स्टेशन पर इंफ्रारेड थर्मामीटर के द्वारा जांच करने वाले कार्मिकों को यह जानकारी होनी चाहिए कि कितना टेम्प्रेचर नाॅर्मल और कितना टेम्प्रेचर होने पर बुखार होता है। इसी प्रकार पल्स आक्सीमीटर संचालित करने वाले को भी यह जानकारी होना आवश्यक है कि कितनी रेंज पर प्रभावित व्यक्ति को आक्सीजन देने की आवश्यकता है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper