बिजनौर में नाव डूबने से दो की मौत, आठ लोगों को ढूंढने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू

लखनऊ: बिजनौर में दर्दनाक हादसे में गंगा नदी में 27 लोगों से भरी नाव पलट गई। कई घंटों की मशक्कत के बाद 18 लोगों को बचा लिया गया। जबकि 8 लोग अभी भी लापता हैं। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई है। लापता लोगों की तलाश और रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए हेलीकॉप्टर की मदद ली जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दुर्घटना पर दुख जाहिर करते हुए मारे गए लोगों के परिजन को चार-चार लाख रुपए बतौर सहायता देने की घोषणा की है।

मुख्यमंत्री ने आधिकारियों को कड़ाई से काम करने का आदेश दिया है। प्रदेश के राहत आयुक्त संजय कुमार के मुताबिक बिजनौर जिले के मंडावर थाना क्षेत्र के डैबलगढ़ और राजारामपुर गांवों के कुछ लोग पशुओं के लिए चारा लेने के वास्ते नाव पर सवार होकर गंगा नदी के दूसरे किनारे पर जा रहे थे तभी अचानक उनकी नौका पलट गई।

उन्होंने बताया कि नाव पर करीब 25 लोग सवार थे। उनमें से एक शव बरामद कर लिया गया है वहीं तीन अन्य लोग अभी लापता हैं। नाव पर सवार रहे 21 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जा चुका है। हालांकि जिलाधिकारी अटल कुमार राय ने दो शव बरामद होने की पुष्टि की है। उनमें से एक की शिनाख्त नगिनी नामक महिला के रूप में हुई है। दूसरे शव की पहचान की कोशिश की जा रही है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper