बॉडी शेप का रखें ध्यान

क्या आप भी अपनी बॉडी शेप की वजह से मनपसंद ड्रेस नहीं पहन पाती? तो चिंता करने की कोई बात नहीं। हम आपको बताते हैं कि कैसे किसी भी ड्रेस को खरीदने से पहले आप अपनी बॉडी शेप को अच्छी तरह से समझें। एक बार अपना फिगर का शेप समझ जाने के बाद आपको ड्रेस चूज करने में मदद मिलेगी। इससे आप एकदम ब्यूटीफुल नजर आएंगी।

पियर शेप बॉडी : ज्यादातर महिलाओं की पियर शेप बॉडी होती है। स्टाइलिश दिखने के लिए आप ऐसी ड्रेसेस पहनें, जिसमें शोल्डर्स हाइलाइट हों। इससे बॉडी शेप बैलेंस दिखेगा। इसके लिए कलरफुल नेकलेस का इस्तेमाल कर सकती हैं। आप अलग-अलग पैटर्न और एसेसरीज वाली टॉप पहनें। टाइट पैंट, कैपरी पैंट, शॉर्ट-स्कर्ट, पेंसिल स्कर्ट पहनने से बचें। फ्लेयर्ड पैंट और ए-लाइन स्कर्ट आप पर अच्छी लगेंगी। इसके अलावा ड्रेस लेते वक्त रंगों का चुनाव भी ध्यान से करें। आप अपने बॉटम वियर के लिए गहरे और सॉलिड रंगों का ही चयन करें। टॉप्स लेते वक्त ब्राइट और लाइट कलर लें।

एप्पल शेप बॉडी : अगर आपकी बॉडी एप्पल शेप में है, तो आपको ऐसे कपड़े पहनने चाहिए जिनमें बॉडी का बीच और कमर वाला पार्ट ज्यादा हाईलाइट न होता हो। इस बॉडी टाइप के लिए वी-नेक और एम्पायर वेस्ट ड्रेसेज बेस्ट रहती हैं। आप ऐसे टॉप भी चूज कर सकती हैं, जो आपके हिप्स को कवर करते हों। हैवी टॉप या ड्रेसेज पहनने की कोशिश एकदम न करें। वहीं स्कीनी जीन्स और स्ट्रेट पैंट्स भी अवॉयड करें। फ्लेयर्ड पैंट्स और बूट कट पैंट्स ट्राई करें।

रेक्टेंगुलर बॉडी शेप : कव्र्स नहीं हैं, तो क्या हुआ? कुछ ऐसी ड्रेसेस हैं जिससे बॉडी शेप को खूबसूरत दिखाने में मदद मिलती हैं। कमर के पतले हिस्से पर बेल्ट पहनें। रैप ड्रेसेज और एम्पायर वेस्ट चुनें। प्लेटेड टॉप भी आपको बेहतर दिखाने में मदद करते हैं। ज्यादा लंबी ड्रेसेस न पहनें।

ऑवरग्लास शेप फिगर : इस बॉडी टाइप की लड़कियां बैगी और भारी-भरकम व ढीले-ढाले कपड़े पहनने से बचें। आप पर वी-नेक टॉप, पेंसिल स्कर्ट और टाइट शॉट्र्स काफी अच्छे लगेंगे। शॉर्ट ए-लाइन ड्रेसेस का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

मधु निगम

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper