बॉलीवुड में नेटवर्क बनाना नहीं जानती थी मंजरी

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेत्री मंजरी फडनीस खुद को बॉलीवुड का सबसे अच्छा रहस्य मानती हैं। मंजरी ने कहा कि वह फिल्म उद्योग में पेशेवर नेटवर्क बनाना नहीं जानती थीं, जिसके कारण बतौर अभिनेत्री उनका करियर प्रभावित हुआ और उनकी क्षमता रहस्य बनकर रह गई। मंजरी ने 2004 में फिल्म ‘रोक सको तो रोक लो’ के साथ अपने करियर की शुरुआत की और उसके बाद वह फिल्म ‘जाने तू..या जाने ना’ में नजर आईं। बॉलीवुड में एक दशक बिताने के बाद भी उन्हें कुछ खास सफलता नहीं मिली और वह मानती हैं कि उनकी क्षमता का बहुत कम उपयोग हुआ है।

मंजरी ने बताया कि मुझे लगता है कि इसी वजह से मेरे करियर की रफ्तार धीमी रही, क्योंकि मैं नेटवर्क बनाना नहीं जानती थी। लेकिन मुझे लगता है कि यह समय है, जब मैं अपनी रफ्तार पकड़ रही हूं। उन्होंने आगे कहा, “मुझे हमेशा विश्वास था कि मेरा काम बोलेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मुझे लगता है कि मैं बॉलीवुड के सबसे अच्छे रहस्यों में से एक हूं। मंजरी अरबाज खान अभिनीत हालिया रिलीज फिल्म ‘निर्दोष’ में एक गृहिणी के किरदार में नजर आ रही हैं, जो एक सस्पेंस थ्रिलर है।

मंजरी ने कहा कि वह काफी दृश्यों की शूटिंग के दौरान भावुक हुई थीं, लेकिन उन्होंने शूटिंग का काफी आनंद लिया। उन्होंने कहा, “अरबाज सर के साथ यह चौथी फिल्म है और हमारे संबंध समय के साथ विकसित हुए हैं। मैं खुश हूं कि फिल्मी पृष्ठभूमि का न होने के बावजूद मुझे फिल्म उद्योग ने स्वीकार किया है और मुझे अच्छा काम मिल रहा है।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper