ब्रेक मिला तो स्कूल में टीचर ने महिला संग किया नागिन डांस, वीडियो हो रहा जमकर वायरल

लखनऊ: आए दिन कोई ना कोई ऐसा वीडियो वायरल हो ही जाता है जो बहुत अजीब -गरीब होता है. ऐसा ही एक वीडियो इस समय राजस्थान के जालोर में सरकारी स्कूल के टीचर्स का वायरल हो रहा है. जी दरअसल यहाँ ट्रेनिंग प्रोग्राम के दौरान उन्होंने नागिन डांस किया और इसके लिए एक टीचर को सस्पेंड भी किया जा चुका है. मिली जानकारी के मुताबिक कथित तौर पर ब्रेक के दौरान तीन टीचर्स को नाचते हुए देखा गया और उनमें से एक मास्टर ट्रेनर है, जिसे ट्रेनिंग प्रोग्राम आयोजित करने के लिए भेजा गया था.

अब इस वीडियो के जमकर वायरल होने के बाद बीते बुधवार को शिक्षकों में से एक को निलंबित किया जा चुका है और अन्य दो को कारण बताओ नोटिस जारी किए जा चुके हैं. इस मामले में जालोर के जिला शिक्षा अधिकारी अशोक रोशवाल के हवाले से लिखा है, ”हमने एक शिक्षक को निलंबित कर दिया है जिसने डांस करना शुरू किया था. अन्य दो लोगों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है, क्योंकी उनकी अभी भर्ती हुई है और नियमों के बारे में नहीं जानते हैं. डांस करना बुरी बात नहीं है, लेकिन आचार संहिता का पालन होना चाहिए.”

आप सभी को बता दें कि इस मामले में निलंबन आदेश पर विभाग के कुछ शिक्षकों ने आपत्ति जता दी है और एक शिक्षक ने एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में कहा, “वे ब्रेक के समय में अन्य शिक्षकों के साथ आनंद ले रहे थे. इसमें अशिष्ट या हानिकारक क्या है? क्या कोई सरकारी कर्मचारी सहकर्मियों के साथ अच्छा समय नहीं बिता सकता? यह उचित नहीं है.”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper