भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा नहीं कर पाएंगे प्रचार, चुनाव आयोग ने लगाया 48 घंटे का बैन

नई दिल्ली: भाजपा उम्मीदवार कपिल मिश्रा पर चुनाव आयोग ने 48 घंटे के लिए प्रचार पर रोक लगा दी है। ये कार्रवाई मिश्रा द्वारा की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर की गई है। दिल्ली के मॉडल टाउन से बीजेपी प्रत्याशी कपिल मिश्रा ने शाहीन बाग को मिनी पाकिस्तान कहा था। इसके अतिरिक्त कपिल मिश्रा ने यह भी ट्वीट कर कहा था कि आठ फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव में दिल्ली की सड़कों पर ‘हिंदुस्तान और पाकिस्तान’ का मुकाबला होगा।

इससे पहले शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने विवादित ट्वीट के मामले में कपिल मिश्रा के खिलाफ FIR दर्ज की थी। कपिल मिश्रा ने अपने विवादित ट्वीट में दिल्ली में 8 फरवरी को होने वाले चुनाव को भारत बनाम पाकिस्तान मुकाबले जैसा बताया था। चुनाव आयोग के अधिकारियों के निर्देश के बाद प्राथमिकी दर्ज की गयी। उन्होंने बताया कि जन प्रतिनिधित्व कानून की धारा 125 के तहत मॉडल टाउन थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper