भाभी के गले पर मारा चाकू किया जिंदा जलाने का प्रयास

लखनऊ: आलमबाग में तीन मासूम बच्चों संग रही महिला पर सोमवार तड़के देवर रिजवान ने चाकू से हमला किया। भाभी के गले पर चाकू मारने के बाद आरोपित ने मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जलाने का प्रयास किया। किसी तरह आग पर काबू पाने के बाद पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने गंभीर रूप से घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत चिंताजनक है। पुलिस ने आरोपित देवर रिजवान अंसारी को गिरफ्तार कर लिया है।

पंजाब नगर रेलवे कालोनी में परवीन बानो पत्नी नवाजस अंसारी तीन बच्चों आयशा, अमन व साढ़े तीन वर्ष के रेहान, सास व देवर रिजवान अंसारी के साथ रहती है। सोमवार तड़के देवर रिजवान ने नशे की हालत में भाभी परवीन के गले पर चाकू मार दिया। इतना ही नहीं घायल भाभी पर तेल डालकर जिंदा जलाने का प्रयास किया। बच्चों के चीखने की आवाज सुनकर पड़ोसियों ने कंट्रोल रूम पर सूचना दी। पुलिस ने घायल परवीन को लोकबंधु अस्पताल पहुंचाया, जहां गंभीर हालत देख डॉक्टरों ने ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया।

खबर मिलते ही मायकेवाले भी आ गये। भाई ताज मंसूरी ने बताया कि बड़ी बहन परवीन का निकाह नवाजस के साथ हुआ था। उसके बाद से ससुरालवाले दहेज की मांग करते रहते थे। सोमवार सुबह वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित रिजवान भाग निकले। पुलिस ने कुछ घण्टों में नामजद आरोपित रिजवान अंसारी को गिरफ्तार कर लिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper