मध्य प्रदेश में कड़ाके की ठंड, कुछ स्थानों पर कोहरे ने बढ़ाई परेशानी

भोपाल: पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी और मध्यप्रदेश में दो दिन पूर्व हुई बारिश और ओलावृष्टि के चलते प्रदेश भर में कड़ाके की ठंड का दौर प्रारंभ हो गया। सिहरन पैदा करने वाली ठंड और प्रदेश के कुछ स्थानों पर सुबह-सुबह कोहरे की धुंध ने लोगों की परेशानियां बढ़ा दी।

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के प्रवक्ता के अनुसार जम्मू कश्मीर, हिमाचल और उत्तराखंड में हो रहे बर्फबारी से पूरे उत्तर भारत के साथ ही मध्यप्रदेश भी कड़ाके ठंड के चपेट में है। प्रदेश के सीधी, सतना, रीवा, खजुराहो, ग्वालियर, राजगढ़, उज्जैन, शाजापुर और रतलाम सहित अनेक स्थानों पर सुबह कोहरे की हल्की धुंध से धूप देर से निकली, जिसके चलते ठंड का अच्छा खासा प्रभाव देखा गया।

वहीं, कोहरे के चलते वाहन चालकों को भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। सिहरन पैदा करने वाली ठंड का प्रभाव प्रदेशभर में है। राजधानी भोपाल में सुबह हल्की धुंध के बाद धूप देर से निकली, जिसके चलते ठंड का प्रभाव सुबह-सुबह अधिक रहा, हालांकि बाद में धूप निकल आई, जिससे ठंड में कमी आई। ठंड ने सुबह सुबह स्कूल जाने वाले बच्चों को सबसे ज्यादा परेशान किया।

पिछले चौबीस घंटों के दौरान सीधी, सतना और छतरपुर जिले के नौगांव में हल्की बारिश भी हुई है। राजधानी भोपाल में रात का तापमान कल के मुकाबले लगभग तीन डिग्री तक लुढ़क कर 13़ 8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। इसके अलावा प्रदेश के अन्य हिस्सों में भी रात के तापमान में एक से दो डिग्री तक की गिरावट देखी गई है।

नागरिकता संशोधन अधिनियम के विरोध में राजद का 21 दिसंबर को बिहार बंद

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper