मनचलों की अब खैर नहीं, लडकियां अब झुमके से दागेंगी गोलियां

वाराणसी: वाराणसी के एक युवक ने एक ऐसा झुमका तैयार किया है, जिससे मिर्ची की गोली निकलेगी। मनचलों को निशाना बनाकर उन्हें भागने पर मजबूर कर देगी। वाराणसी के पहड़िया स्थित अशोका इंस्टिट्यूट में रिसर्च एंड डिवेलपमेंट डिपार्टमेंट के प्रभारी श्याम चौरसिया ने इसे बनाया है। झुमके अब महिलाओं की सुरक्षा भी करेंगे। इससे महिला न सिर्फ अपनी आत्मरक्षा कर सकेगी, बल्कि मनचलों को छेड़छाड़ से रोकने में भी कामयाब होगी। इस झुमके से मिर्ची की गोलियों की बरसात होगी। इसे बनाने वाले युवक ने बताया कि इस स्मार्ट ईयरिंग गन में तेज आवाज के साथ छेड़खानी करने वाले मनचलों पर लाल और हरी मिर्च की बुलेट दागने की क्षमता है। यह संभव होगा झुमके में फिट एक बटन के दबाने से। इस बटन के दबाते ही मनचलों पर मिर्ची बुलेट की बरसात शुरू हो जाएगी और वह घबराकर भागने लगेगा।

इस डिवाइस की एक खासियत 100 और 112 डायल पर भी तत्काल सूचना भेजने की है। मनचलों से परेशान महिला के बटन दबाते ही डायल 112 और डायल 100 के इमरजेंसी नंबर पर भी कॉल चली जाएगी। इस ईयरिंग गन को किसी भी मोबाइल के ब्लूटूथ से अटैच कर प्रयोग करने की सुविधा है। यह सुविधा महिलाओं को खुद को सुरक्षित करने में अधिक उपयोगी होगी। यही नहीं, विशेष परिस्थिति में इसे हाथ में लेकर गोली भी चलाई जा सकती है जिसमें हरे और लाल मिर्च के पाउडर वाली गोली निकलेगी। मोबाइल में लगे ब्लूटूथ को एक घंटे चार्ज करने पर यह सप्ताह भर चल जाएगा।

इस डिवाइस को तैयार करने में श्याम चौरसिया को चार महीने का समय लगा है। इसका वजन भी काफी कम है। इसका भार तकरीबन 45 ग्राम है और लम्बाई करीब 3 इंच है। इस ईयरिंग गन में 3 इंच लम्बी 5 एमएम मोटी फोल्डिंग बैरल है। इस इलेक्ट्रनिक डिवाइस में 3.70 वोल्ट की बैट्री और 2 स्विच हैं। इसे तैयार करने में महज 450 रुपए का खर्च आया है। इससे पहले श्याम ऐसा पर्स बना चुके हैं जिसमें अलर्ट बटन लगा हुआ है। इस बटाने को दबाने से अलार्म बजने लगता है जिससे पुलिस को भी सूचना पहुंच जाती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper