मनी लॉन्ड्रिंग केस : डीके शिवकुमार की बेटी पूछताछ के लिए ईडी मुख्यालय पहुंची

बेंगलूरु: कर्नाटक के पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डी के शिवकुमार की बेटी एश्वर्या पूछताछ के लिए गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मुख्यालय पहुंच गई हैं। शिवकुमार खुद धनशोधन मामले में इस समय ईडी की हिरासत में हैं। डीके शिवकुमार के भाई और कांग्रेस सांसद डीके सुरेश जो ने कहा कि ऐश्वर्या को ईडी अधिकारियों ने समन भेजा है।

दरअसल, मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार डीके शिवकुमार के मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। डीके सुरेश ने कहा कि ऐश्वर्या ईडी अधिकारियों का सामना करेंगी। कानून सबके लिए बराबर है और वह एक साहसी लड़की है। अगर ईडी उसे पूछताछ करना चाहता है तो वह पूछताछ कर सकता है। शिवकुमार और उनका परिवार इसके लिए तैयार हैं। ईडी अधिकारी इसके लिए स्वतंत्र हैं। लेकिन, ईडी अधिकारियों को इसी तरह से दूसरे नेताओं के परिवारों से भी पूछताछ करनी चाहिए।

गौरतलब है कि शिवकुमार को पिछले 3 सितंबर को पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया गया था। ऐश्वर्या मैनेजमेंट ग्रेजुएट हैं और शिवकुमार की कई संपत्तियों की मालिक हैं। आज अधिकारी उनके बयान को दर्ज करेंगे। यह बयान धन शोधन रोकथाम अधिनियम के तहत दर्ज किए जाएंगे। सूत्रों का कहना है की ऐश्वर्या से उपलब्ध दस्तावेजों और डीके शिवकुमार द्वारा दिए गए बयानों के आधार पर पूछताछ की जाएगी। यह सवाल उनके 2017 के सिंगापुर दौरे से जुड़ा हुआ है। ऐश्वर्या शिवकुमार के एजुकेशन ट्रस्ट की ट्रस्टी है ज्ईजिसके द्वारा कई स्कूल और कॉलेज संचालित होते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper