माय होम में असम व बंगाल की महिलाएं करती थी देह व्यापार, ऐसे हुआ भंडाफोड़

इंदौर: मध्य प्रदेश में इंदौर के माय होम होटल का कर्ताधर्ता अमित सोनी और उसके साथी बंगाल व असम से महिलाओं को लाकर होटल में देह व्यापार करते थे। इसके अलावा आरोपित महिलाओं को नौकरी पर रखते समय ही उनसे 100 रुपये के स्टांप पेपर पर सहमति पत्र लिखवा लेते थे, ‎जिसमें लिखा होता था कि वे अपनी मर्जी से होटल में नौकरी कर रही हैं और यहां गाना-बजाना करने वालों के साथ रहेंगी।

इस सहमति पत्र की नोटरी भी करवाई जाती थी। यह जानकारी कोर्ट में पेश 489 पेज के चालान में सामने आई है। बता दें ‎कि एक दिसंबर 2019 को इंदौर पुलिस और प्रशासन की टीम ने संयोगितागंज क्षेत्र स्थित माय होम होटल पर छापामार कार्रवाई करते हुए वहां से 67 महिलाओं-युवतियों को बरामद किया था। इनसे होटल में बार डांसर के रूप में काम कराया जाता था। साथ ही इन्हें होटल में चल रहे देह व्यापार में भी धकेल दिया जाता था। ‎

फिलहाल पुलिस ने होटल के मालिक जीतू सोनी, उसके बेटे अमित सोनी सहित 102 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। जिला अभियोजन अधिकारी मो. अकरम शेख ने बताया कि पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि आरोपित महिलाओं से जिस स्टांप पर सहमति पत्र लिखवाते थे, वे साईक्लोस्टाइल जैसे होते थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper