मुकुल राय की गाड़ी में तोड़फोड़, भाजपा नेताओं को मकान में घेर कर रखा

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान हिंसा थमने का नाम ही नहीं ले रही है। बीती रात महानगर से सटे दमदम लोकसभा क्षेत्र के नागर बाजार में भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकुल राय की गाड़ी में रात करीब 11:15 बजे तोड़फोड़ की गई। आरोप तृणमूल कांग्रेस समर्थकों पर लगा है। यही नहीं एक घंटे से अधिक समय तक मुकुल राय समेत भाजपा के अन्य नेताओं को एक मकान में घेर कर रखा गया है।

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दमदम में जनसभा को संबोधित करने के बाद भाजपा नेता मुकुल राय एक व्यक्ति के घर में जन्मदिन की पार्टी में शामिल होने के लिए नागर बाजार स्थित एक मकान में गए थे। तभी अचानक सैकड़ों लोग एकत्रित हो गए और गाड़ी में तोड़फोड़ करने लगे तोड़फोड़ करने वाले सभी लोगों को तृणमूल समर्थक बताया जा रहा है। पास में ही पुलिस चौकी होने के बावजूद एक दो पुलिस वाले ही वहां दिखाई दिए और सब लोग वहां तोड़फोड़ करते दिखे।

हालांकि, तृणमूल के नेताओं का कहना है कि इस घटना से उनके पार्टी समर्थकों का कुछ लेना-देना नहीं है। तृणमूल का आरोप है कि भाजपा नेता वहां रुपये बांटने के लिए पहुंचे थे। 12:00 बजे के बाद भारी संख्या में पुलिस व केंद्रीय बल मौके पर पहुंचने के बाद तोड़फोड़ करने वालों को हिरासत में लेकर साथ ले गए।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper