मेरठ: काली मां की मूर्ति स्थापित करने से रोका तो 50 परिवारों ने दी धर्म परिवर्तन की धमकी

मेरठ: मेरठ के रहने वाले 50 दलित परिवारों ने धर्म परिवर्तन की धमकी दी है. इन परिवारों का आरोप है कि नवरात्र में उन्होंने जब काली मां की मूर्ति गांव के मंदिर में रखनी चाही तो उनके अपने ही समाज के कुछ लोगों ने उन्हें मूर्ति स्थापित करने से रोक लिया. मामला मेरठ के इंचोली थाना क्षेत्र के एक गांव का है.

इंचौली थाना क्षेत्र के मसूरी गांव में राजकुमार जाटव परिवार के साथ रहता है। उसके मुताबिक गांव में प्राचीन शिव मंदिर है। कुछ दिन पूर्व गांव में सर्व समाज के लोगों की सलाह पर मंदिर प्रांगण में काली माता की मूर्ति स्थापित कराने का निर्णय किया गया। बताया कि पांच दिन पूर्व सभी लोग मिलकर हस्तिनापुर गए और मूर्ति का आर्डर दे दिया। मूर्ति मंगलवार को गांव पहुंच गई।

गांव के ही जाटव समाज के करीब आधा दर्जन लोगों ने मूर्ति स्थापित किए जाने का विरोध करते हुए ईंट उठाकर फेंक दीं। इसको लेकर हंगामा हो गया। उस समय सभी शांत हो गए। बुधवार सुबह फिर से मंदिर में मूर्ति स्थापित करने की बात हुई तो उन लोगों ने विरोध कर दिया। इस पर राजकुमार ने 50 परिवारों के साथ धर्म परिवर्तन की चेतावनी दे डाली।

एडीएम रामचंद्रन ने बताया कि प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि वे मंदिर में मां काली की मूर्ति स्थापित करा चाहते थे लेकिन गांव के कुछ स्थानिय निवासियों ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया. हम इस मामले की जांच करेंगे. उन्होंने कहा कि मुझे इस मामले में धर्म परिवर्तन की मांग के बारे में कुछ नहीं पता, लेकिन मामले को जल्द से जल्द सुलझा लिया जाएगा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper