मेरठ में जलती चिता से चेले की खोपड़ी चुराता पकड़ा गया तांत्रिक

मेरठ: परतापुर क्षेत्र में तंत्र क्रिया में घिरे एक युवक की मौत के बाद परिजनों ने युवक की जलती चिता से खोपड़ी चुराते उसके तांत्रिक गुरु को रंगे हाथ दबोच लिया। परिजनों ने आरोपी की जमकर पिटाई करते हुए पुलिस को सौंप दिया। वहीं, क्षेत्र की दर्जनों महिलाओं ने आरोपी पर तंत्र क्रिया करके कई लोगों की हत्या का आरोप लगाते हुए थाने पर हंगामा कर दिया। पुलिस ने आरोपी के अन्य साथी को भी गिरफ्तार किया है। परतापुर हवाई पट्टी निवासी सर्वेश शर्मा का 26 वर्षीय पुत्र सचिन उर्फ भूरे कई माह से शताब्दीनगर सेक्टर 4 सी निवासी तांत्रिक राकेश के संपर्क में था।

परिजनों के मुताबिक सचिन पर तांत्रिक बनने का ‘भूत’ सवार था। दो दिन पूर्व सचिन की तबियत एकाएक बिगड़ गई। सचिन ने यह कहते हुए डाॅक्टर के पास जाने से इंकार कर दिया कि उसके गुरु राकेश ने उसे देवी बलि के लिए तैयार किया है। सचिन का कहना था कि दो दिन में उसकी मौत हो जाएगी। इसके बाद रविवार को सचिन की मौत हो गई। बदहवास परिजनों ने क्षेत्र के श्मशान घाट में सचिन का अंतिम संस्कार कर दिया। मृतक के परिजनों के अनुसार रात को वह सचिन की चिता को देखने पहुंचे तो तांत्रिक जलती चिता से उसके शव की खोपड़ी चुरा रहा था, जिसके बाद परिजनों ने राकेश को दबोचकर उसकी जमकर पिटाई की और उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

उधर, सोमवार सुबह भाजपा नेत्री मंजू तोमर के नेतृत्व में दर्जनों महिलाओं ने परतापुर थाने में जमकर हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपी तांत्रिक अब तक कई जान ले चुका है। अपने खिलाफ आवाज उठाने पर वह हर छठे दिन क्षेत्र से एक लाश उठने की धमकी देता है। हंगामे के बाद पुलिस ने आरोपी के साथी तांत्रिक सुरेश को भी गिरफ्तार कर लिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper