मेरठ में बोल बम-बम के उद्घोष से गूंज रहा है आसमान

मेरठ: बोल बम के उद्घोष से पूरा शहर गूंज रहा है। कंधे पर कांवड़ लिए शिव भक्त बोल बम-बम के जयकारे लगाते हुए अपनी मंजिल की ओर रवाना होते जा रहे हैं। एक से बढ़कर एक सजी हुई कांवड़ों ने आस्था की लहरों को प्रचंड किया तो शहर में केसरिया बयार बह उठी। दिल्ली-देहरादून हाइवे, दिल्ली रोड, गढ़ रोड समेत विभिन्न मार्ग पर आस्था का सैलाब उमड़ा हुआ है। जगह-जगह शिविरों में डीजे पर बजते भोले के गीतों से भक्तिरस की लहर बह रही है, दूसरी ओर शिविर संचालक सेवाभाव से भोलों का स्वागत कर पुण्यलाभ कमा रहे हैं।

भगवान शिव की भक्ति को समर्पित श्रवण मास में पूरा शहर शिवमय होने लगा है। जैसे-जैसे शिवरात्रि के आगमन की तिथि निकट आ रही है, वैसे-वैसे शहर में भक्ति की लहरें उफान पर पहुंच रही हैं। सोमवार को नेशनल हाइवे, कांवड़ नहर पटरी के साथ बेगमपुल से परतापुर तक दिल्ली रोड और गढ़ रोड केसरिया रंग में रंग गई। कंधे पर कांवड़ और लबों पर भगवान शिव के उद्घोष करते हुए भक्ति में रमे कांवड़िये गंतव्यों की ओर बढ़ रहे हैं। शहर के सभी मार्गों पर आस्था की गंगा बह रही है।

हरिद्वार से कांवड़िये एक से बढ़कर एक कांवड़ लेकर चल रहे हैं। रंग-बिरंगी लाइटों व देव प्रतिमाओं को सजाकर कांवड़िये झांकियां निकाल रहे हैं, जिन्हें देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। देव वेशभूषाओं में सजे कलाकार अपनी मोहक प्रस्तुति से आम जन को आकर्षित कर रहे हैं। दिल्ली रोड पर डिवाइडर व सड़क किनारे खड़े होकर लोग प्रस्तुतियां देखने के लिए आ रहे हैं।

इस बार नए-नए डिजाइन की कावड़ दिखाई दे रही है। कावड़िये इन कांवड़ को बनाने में लाखों रुपये खर्च कर रहे हैं। बड़ी कांवड़ को युवा समूह में लेकर आ रहे हैं। छोटी से लेकर बड़ी कांवड़ लोगों के आकर्षण का केंद्र बन रही है। शहर के विभिन्न स्थानों पर कांवड़ियों की सेवा के लिए शिविर लगाए गए हैं, जिन पर भक्ति भाव से कांवड़ियों की सेवा की जा रही है। कांवड़िये इन शिविरों में ठहरकर थकान दूर कर रहे हैं। शिविरों में शिव भक्तों के मनोरंजन के लिए शिव-पार्वती नृत्य, राधा-कृष्ण रास आदि की व्यवस्था की गई है।

कांवड़ियों की सेवा करने के लिए मुस्लिम समाज के लोग भी आगे आ रहे हैं। दिल्ली मार्ग पर मुस्लिम समाज की ओर से कांवड़ शिविर भी लगाया गया है। इसके अलावा हापुड़ अड्डे पर भी मुस्लिम व्यापारी कांवड़ियों की सेवा कर रहे हैं, वहीं डाहर गांव में मुस्लिम चिकित्सक कांवड़ियों का फ्री इलाज कर धर्मलाभ कमा रहे हैं। कांवड़ यात्रा में हर धर्म के लोग शिव भक्तों की सेवा कर धर्म के ठेकेदारों को मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं।

शिवरात्री पर्व पर पूरे प्रदेश में शिवभक्तों की आस्था का सैलाब हिलारे मार रहा है। महागनर की सड़कों और हाईवे पर सिर्फ भगवा वस्त्रधारी शिवभक्तों की भीड़ दिखाई दे रही है। रंगीन लाइटों और तिरंगों से सजी झांकियां लेकर बड़ी-बड़ी कांवड़ ले जा रहे शिवभक्तों में खुशी देखी गई। कई स्थानों पर कांवड़ियों ने डीजे पर जमकर मस्ती करते हुए सेल्फी भी ली।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper