मैनपुरी हादसाः मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये देगी योगी सरकार

Published: 13/06/2018 12:34 PM

मैनपुरी: जनपद के दन्नाहार थाना क्षेत्र में बुधवार तड़के हुए एक बड़े हादसे में एक निजी बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराकर पलट गई, जिसमें अब तक 17 लोगों की मौत की पुष्टि की गई है, जबकि घायलों की संख्या दो दर्जन से अधिक बतायी जा रही है। घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर गहरा दुख जताते हुए दिवंगत लोगों के शोकाकुल परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की। इसके साथ ही उन्होंने सभी घायलों का इलाज बेहतर तरीके से कराने के निर्देश दिए हैं।

उन्होंने दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को 02-02 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है। वहीं उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की ओर से कहा गया कि इस हृदयविदारक हादसा से बेहद आहत हूं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, इलाज में कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

ये हादसा उस समय हुआ जब तड़के जयपुर से कन्नौज के गुरसहायगंज जा रही टूरिस्ट बस संख्या यूपी 76के 7275 दन्नाहार थाना क्षेत्र के कीरतपुर चौकी के पास से गुजर रही थी। इसी दौरान वह अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई और पलट गई। बस में करीब 90 लोग सवार थे और हादसे में पांच की मौके पर ही मौत हो गई जबकि 12 अन्य ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ा।

बताया जा रहा है कि हादसा चालक को नींद की झपकी आने की वजह से हुआ। घटना के तुरन्त बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को हादसे की सूचना दी और बचाव कार्य के लिए आगे आये। इसके बाद जनपद के कई थानों की पुलिस और एंबुलेंस घटनास्थल पर पहुंची और घायलों को इलाज के लिए भिजवाया। उधर घटना की जानकारी मिलते ही जिलाधिकारी प्रदीप कुमार और पुलिस अधीक्षक अजय शंकर राय मौके पर पहुंचे और राहत कार्यों को तेजी से आगे बढ़ाया। अधिकारियों के मुताबिक घायलों को उचित इलाज मुहैया कराते हुए सभी प्रबन्ध किये गये हैं। घायलों को मैनपुरी जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं घटना के बाद जिले के प्रभारी मंत्री गिरीश चन्द्र, विधायक राम नरेश अग्रिहोत्री व अन्य भाजपा नेता अस्पताल पहुंचे। नेताओं ने घायलों के परिजनों से जानकारी ली।

वहीं अधिकारियों के मुताबिक शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। मृतकों के सम्बन्ध में जानकारी जुटायी रही है। प्रशासन के मुताबिक अभी तक सात मृतकों की पहचान हो चुकी है। बाकी शवों की शिनाख्त की जा रही है। इनमें डिंपी (25) पत्नी अजय सिंह निवासी भरतपुर राजस्थान, मो. आजाद (27) पुत्र सर्फुद्दीन निवासी ओशोर खटिया कन्नौज, शाहरुख (25) पुत्र कुतुबुद्दीन निवासी बाबनझाला मुजफ्फरपुर बिल्हौर कानपुर, भुल्ली (23) पुत्र जमील निवासी ककुअन कन्नौज, ज्ञानेंद्र (24) सुम्मेर सिंह निवासी पालपुर छिबरामऊ कन्नौज, प्रदीप (18) पुत्र रामनाथ सिंह निवासी पालपुर छिबरामऊ कन्नौज और नंदन (22) पुत्र वीरपाल पालपुर छिबरामऊ कन्नौज हैं। बाकी शवों की शिनाख्त की जा रही है।

हादसे में घायल जिन 15 लोगों की जानकारी सामने आयी है, उनमें मुकुल (22), चरन सिंह (58 साल) पुत्र नत्थूलाल निवासी जेल चौराहा कोतवाली मैनपुरी, मुन्नी देवी पत्नी राम भक्त निवासी बोरखोलिया मीरापुर फर्रुखाबाद, नंदन (15) पुत्र अज्ञात निवासी अज्ञात, रिजवान (30) पुत्र रफीक निवासी हीलपुर कानपुर, मुकुल (22) पुत्र विजय कुमार निवासी फतेहगढ़ फर्रुखाबाद, आदिल (18) पुत्र मुन्ने खां निवासी गुरसहायगंज कन्नौज, कुंदन(19) पुत्र हरिकिशन निवासी गुरसहायगंज कन्नौज, हरिकिशन (37) पुत्र लालाराम निवासी गुरसहायगंज कन्नौज, सुनीता (30) पत्नी हरिकिशन निवासी गुरसहायगंज कन्नौज, रचना मिश्रा (30) पत्नी करन मिश्रा निवासी खटराना फर्रुखाबाद, तजीर (25) पुत्र फहीम निवासी खलोकपुरा फर्रुखाबाद, मोहम्मद हसन (27) पुत्र साजुद्दीन निवासी गुरसहायगंज कन्नौज, रघुराज (35) पुत्र वीर निवासी मंडी समिति आगरा और अफरोज (50) निवासी तालगांव कन्नौज हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
-----------------------------------------------------------------------------------
E-Paper