…यहां कब्रिस्तान से हो रही शवों की चोरी, लोग दे रहे पहरा

बुलंदशहर: घरों में तो चोरी की घटनाएं आपने सुनी है लेकिन अब कब्रिस्तान से भी शवों की चोरी होने लगी है। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में एक कब्रिस्तान से शव चोरी का मामला सामने आया है। इस घटना के बाद लोग अब कब्रिस्तान में कब्र की रखवाली के लिए पहरा दे रहे हैं। सर्दियों की ठंड भरी रात में लोगों को डर है कि शव चुराने वाला कहीं उनके किसी अपने की कब्र से शव को निकाल न ले जाए।

बुलंदशहर के मिर्जापुर गांव के कब्रिस्तान में कई कब्र खुदी हुई मिली है, जिसके बाद लोग कब्रिस्तान में पहरा दे रहे हैं। वहीं स्थानीय लोग इस बात की संभावना जता रहे हैं कि कब्रों से शवों को चुराकर उनके साथ तांत्रिक क्रिया की जा रही है। वहीं कुछ लोग लाशों की तस्करी कर उसे मेडिकल कॉलेज या मानव अंगों की तस्करी के लिए शवों की चोरी होने की बात कर रहे हैं।

इस पूरी घटना में खास बात यह हैं कि कब्र से गायब हुए दोनों बच्चों के शव को सात दिन और 15 दिन पहले ही दफनाया गया था। कब्रिस्तान में कुछ और भी कब्रों को खोदा गया था, लेकिन ये कब्र ज्यादा पुरानी थी इस वजह से उन्हें नहीं निकाला गया। गौरतलब है ‎कि बुलंदशहर में कब्र से शव निकालने का यह पहला मामला है। पुलिस का कहना है कि कब्र से शव चोरी करने के मामले में जो भी शामिल होगा वो जल्दी ही सामने आएगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper