यहां खुद रिक्शा चलाकर गरीबों तक राशन पहुंचा रहे डीएसपी, लोगों ने कहा- हमारे लिए यही भगवान हैं

महोबा: कोरोना संकट के समय आज कल यूपी पुलिस मसीहा बनकर सामने आ रही है। महोबा में भी एक सीओ लोगों की मदद को खुद ई रिक्शा चलाकर लोगों तक खाना पहुंचा रहे हैं। सीओ के मुताबिक यह ऐसा मौका है जब पुलिस जवानो को अपनी ड्यूटी का निर्वहन करते हुए मानवता की सेवा कर पाने का महत्वपूर्ण अवसर मिला है। सोशल मीडिया पर सीओ की काफी सराहना हो रही है।

जानकारी के मुताबिक, महोबा में नगरीय क्षेत्रों के अलावा गांव की तंग गलियों में उनकी सरकारी कार न घुस पाने के कारण अक्सर परेशानियों का सामना करना पड़ता था और लोगो तक भोजन व रसद पहुचाने में कठिनाई होती थी। इसी के चलते कुलपहाड़ सर्किल में तैनात पुलिस क्षेत्राधिकारी अवध सिंह खुद ई रिक्शा चलाकर ऐसी गलियों में खाना पहुंचा रहें हैं। बैटरी रिक्शा से प्रत्येक जरूरतमंद के दरवाजे पहुंचकर उसे सहायता पहुचाने में सुविधा होती है। सीओ साहब की रिक्शा चलाते हुए तस्वीरों को काफी पसंद किया जा रहा है।

जिले में कोई भूखा न रहे को अपना ध्येय वाक्य बनाकर जिले की पुलिस आमजनों के घर घर जाकर भोजन और खाद्यान्न सामग्री बांट रही है। लाकडाउन का अक्षरश: पालन कराने के लिये पुलिस महकमा दिन रात मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी कर रहा है। पुलिस जवान कानून व्यवस्था को बनाये रखने के अलावा आपदा के इस कठिन मौके पर मानवीय सेवा का कार्य करते हुए गरीबो असहायों की हर सम्भव मदद भी कर रहे है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper