यूपी : तबलीगी जमात मामले में कसा शिकंजा, लखनऊ में एफआईआर दर्ज

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में पुलिस ने तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने वालों के खिलाफ शिकंजा कस दिया है. इस क्रम में लखनऊ में एफआईआर दर्ज की गई है. वीजा नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है. तबलीगी जमात मामले में पुलिस ने मड़ियांव, काकोरी और कैसरबाग थानों में एफआईआर दर्ज की है.

दरअसल, तबलीगी गतिविधियों में शामिल ज्यादातर विदेशी टूरिस्ट वीजा पर आए थे. टूरिस्ट वीजा पर आकर धर्म का प्रचार करने को पुलिस ने आधार बनाकर एफआईआर दर्ज की है. पुलिस के मुताबिक टूरिस्ट वीजा पर इस तरह का काम फॉरेन एक्ट के तहत अवैध काम माना जाता है. वहीं फिलहाल लखनऊ में मिले तबलीगी जमात के लोगों को पुलिस क्वारनटीन कर चुकी है.

दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के मरकज में महराजगंज जिले के 21 लोग शामिल हुए थे. पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इन सभी लोगों को बुधवार की शाम जिला मुख्यालय स्थित खाली पड़े 300 बेड वाले महिला अस्पताल को क्वारनटीन सेंटर बनाकर भर्ती कराया है.

सभी लोग 18 और 19 मार्च को तबलीगी जमात के मरकज के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वापस आए थे. वहीं कोरोना वायरस के संक्रमण की सूचना पर सभी लोगों ने बीती 21 मार्च से खुद को घरों में कैद कर लिया. हालांकि फिलहाल सभी को महिला अस्पताल के क्वारनटीन वार्ड में भर्ती कराया गया है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper