यूपी में योगी सरकार की मेहनत लाई रंग, कई जिले हुए कोरोना मुक्त

लखनऊ। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ को कोरोना के खिलाफ मोर्चे पर बड़ी सफलता मिली है। सरकार के प्रयासों और लोगों की जागरूकता की बदौलत एक तरफ जहां कोरोना संक्रमित मामलों की गति में कमी आई है, वहीं कई जनपद कोरोना मुक्त भी होते जा रहे हैं। बेहतर इलाज की बदौलत राज्य में कोरोना संक्रमित 969 मरीजों की संख्या घटकर 869 रह गई है।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि पीलीभीत, महराजगंज, हाथरस के बाद अब अन्य जनपद भी कोरोना मुक्त हो रहे हैं। इनमें प्रयागराज भी शामिल हो गया है। इसी तरह बरेली में जो एकमात्र हॉट स्पॉट था, वहां के जिला प्रशासन ने अब उसकी भी जरूरत नहीं बताई है। उनके केस निर्धारित अवधि के बाद अब निगेटिव आ रहे हैं। शाहजहांपुर भी कोरोना मुक्त होने की कगार पर है। इस तरह यह प्रदेश के लिए अच्छी खबर है।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय औसत में भी उत्तर प्रदेश अच्छे स्थान पर है। प्रदेश की जनसंख्या काफी ज्यादा होने के बावजूद यहां कोरोना केस कम हैं, ग्रोथ रेट और डेथ रेट भी कम है। इसके साथ ही यहां लोग ठीक होते जा रहे हैं। यह सभी की मेहनत का फल है। वहीं हमें और मेहनत की जरूरत है।

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में कई जनपद जहां कोरोना मुक्त हुए हैं। वहीं कुछ अन्य जिलों में या तो दूसरा टेस्ट चल रहा है या फिर मरीज डिस्चार्ज होने के करीब हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में मुख्य रूप से गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, मेरठ, लखनऊ, आगरा और सहारनपुर कोरोना संक्रमित हैं। वहीं अन्य जिलों में या तो कोरोना नियंत्रित होता जा रहा है, हॉट स्पॉट चरणवार कम होते जा रहे हैं या फिर जनपद संक्रमण मुक्त हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस समय राज्य में 1025 लोग आइसोलेशन वार्ड और 10814 क्वारंटाइन में हैं। हमारे पास 10000 आइसोलेशन बेड और 15000 क्वारंटाइन बेड हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper