राजस्थान में आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोग घायल

जयपुर: राजस्थान के पाली जिले के खिंवाडा थाना क्षेत्र में रविवार सुबह आकाशीय बिजली गिरने से 26 लोग घायल हो गये। इसमें आठ महिलाओं का उपचार प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र पर हो रहा है। देसूरी के उपखंड अधिकारी रवि विजय ने बताया कि पनोता गांव में खुदाई के काम में लगे नरेगा के मजदूर बारिश से बचने के लिये एक झोपड़ी में जमा हो गये थे। इसी दौरान झोपड़ी के पास एक पेड़ पर आकाशीय बिजली के गिरने से 26 मजदूर घायल हो गये।

घायलों को तुरंत प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र पहुंचाया गया, जहां 18 मजदूरों को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया जबकि आठ महिलाओं का उपचार जारी है। उन्होंने बताया कि सभी घायल महिलाओं की स्थिति ठीक है और उन्हें प्राथमिक केन्द्र में निगरानी के लिये रखा गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper