रामपाल प्रकरण: अधिवक्ता एपी सिंह ने लगाए गंभीर आरोप

हिसार: हिसार के केन्द्रीय जेल में बंद रामपाल व उसके समर्थकों पर लगाए गए नवम्बर 2014 में बरवाला में हुए हिंसा व हत्या के आरोप में गुरूवार को सुनवाई चल रही है। केन्द्रीय जेल मेें लगी अदालत में जज डीआर चालिया ने बरवाला आश्रम में हिंसा प्रकरण में सुनवाई कर रहे हैं। लेकिन रामपाल के मुख्य विधि अधिवक्ता ए पी सिंह ने आरोप लगाया है कि उनको ट्रायल के लिए जेल के अंदर बने कोर्ट में नहीं जाने दिया गया है।

लोकनायक जयप्रकाश नारायण की 116वीं जयंती पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने किया याद

एपी सिंह ने मीडिया के सामने अपना रोष प्रकट करते हुए कहा की सरकार जानबूझकर हम जैसे वकीलों को बाहर रख रही है। उनका कहना है कि रामपाल की उपस्थिति में यह सुनवाई होनी चाहिए। जबकि दूसरी तरफ पुलिस सूत्रों का कहना है ए पी सिंह का नाम उस अधिवक्ताओं की सूची में नहीं है, जिनको कोर्ट के अंदर इस मामले की पैरवी करनी है।

दरअसल नवंबर 2014 को बरवाला में संत रामपाल के अनुयायियों व पुलिस के बीच हुई भिड़ंत हो गयी थी। इस हिंसा में एक बच्चे सहित पांच लोगों की मौत हो गई थी।इसके बाद पुलिस ने आश्रम से रामपाल को गिरफ्तार कर लिया था। तभी से रामपाल जेल में बंद हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
loading...
E-Paper