राहुल की बात पर अखिलेश बोले- कांग्रेस धोखेबाज पार्टी

लखनऊ: उत्तरप्रदेश में रैलियों के साथ एक दूसरे पर जुबानी हमले भी तेज हो गए हैं। इसी क्रम में अब अखिलेश यादव ने राहुल गांधी की उस बात का जवाब दिया है जिसमें राहुल ने सपा-बसपा को कहा था कि वो मोदी जी से डरते हैं इसलिए कुछ नहीं बोले। राहुल ने कहा था ‎कि आप सभी ने देखा कि कांग्रेस भाजपा के खिलाफ लड़ी और नारा दिया ‎कि चौकीदार चोर है, लेकिन क्या आपने कभी एसपी और बीसएपी के नेताओं को यह नारा बोलते हुए सुना या देखा है?

आखिर उन्होंने अब तक क्यों यह नारा नहीं बोला? क्योंकि वे सभी मोदी जी से डरते हैं। राहुल के इस बयान से एसपी मुखिया अखिलेश यादव ने कांग्रेस पार्टी को देश की सबसे बड़ी धोखेबाज पार्टी कह दिया। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने उनके और पिता मुलायम सिंह यादव के खिलाफ सीबीआई का गलत इस्तेमाल किया।

मुझे किसी से कोई डर नहीं है। जिस व्यक्ति ने मेरे खिलाफ जनहित याचिका दायर की, वह कांग्रेसी है और लखनऊ में कांग्रेस प्रत्याशी के नामांकन के समय मौजूद था। अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस जवाब दे कि क्या यह व्यक्ति नामांकन में मौजूद था या नहीं? मुझसे बात करने का उनका चेहरा नहीं है। कांग्रेस और भाजपा एक ही हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper