लखनऊ को बड़ी राहत, पांच दिन से कोरोना का नया मामला नहीं

लखनऊ : लॉकडाउन के दौरान लोगों द्वारा रखे धैर्य का नतीजा लखनऊ वालों को मिल रहा है। पिछले पांच दिन से कोरोना संक्रमण की चपेट में कोई नया मामला सामने नहीं आया है। कोरोना सैम्पल कलेक्शन के नोडल ऑफिसर डॉ. एपी सिंह का कहना है कि लगातार जांच के लिए संदिग्ध लोगों के नमूने एकत्र किए जा रहे हैं।

लोगों के भरपूर सहयोग से संक्रमण के प्रसार को रोकने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना को हराने का असली वक्त आ गया है। लोगों घरों में रहें। मिलना-जुलना 21 दिनों तक पूरी तरह से बंद कर दें। वहीं दूसरी ओर इस संबंध में केजीएमयू पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष डॉ. वेद प्रकाश ने बताया कि हाथ धुलकर और लोगों से दूरी बनाकर बीमारी को मात दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि लोगों को धैर्य रखने की जरूरत है। हर सर्दी जुकाम कोरोना वायरस नहीं हो सकता है। इसलिए अफवाहों से बचकर रहें।

कनिका की तबीयत स्थिर

पीजीआई में भर्ती बालीवुड गायिका कनिका कपूर की तबीयत स्थिर है। डॉक्टरों का कहना है कि बिना लोगों के सहयोग के कोरोना से जंग जीत पाना कठिन है। सोशल डिस्टैंसिंग से हम लोग कोरोना को हरा सकते हैं। गौरतलब है कि 20 मार्च को लखनऊ में बॉलीबुड गायिक कानिका कपूर में संक्रमण की पुष्टि हुई थी।

कानिक ने लखनऊ में कई पार्टियों में शिरकत की थी। यह सुनकर स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के होश उड़ गए थे। स्वास्थ्य विभाग ने कड़ी मशक्कत कर कनिका के संपर्क व पार्टी में शामिल सभी लोगों की जांच की। अभी तक जांच में किसी में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है। सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल के मुताबिक लोगों को 14 दिन एकांत में रहने की सलाह दी गई उनका भी भरपूर सहयोग मिल रहा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper