लखनऊ से छह शहरों के लिए जल्द शुरू होगी सीधी उड़ान

लखनऊ ब्यूरो। राजधानी लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट से जल्द ही आगरा और अंबाला सहित छह श​हरों के लिए सीधी उड़ान शुरू की जाएगी। इसके लिए तैयारियां तेजी से चल रही है।

एयरपोर्ट के विशेष कार्याधिकारी ने सोमवार को बताया कि जल्द ही आगरा और अंबाला सहित छह शहरों के लिए सीधी विमान सेवा शुरू की जाएगी। उन्होंने बताया कि उड़ान-3 योजना के तहत सीधी उड़ान पंतनगर, किशनगढ़, आगरा, कुशीनगर, सहारनपुर और अंबाला के लिए शुरू होगी। इसके लिए एयरलाइन ऑपरेटरों का चयन हो गया है। जल्द ही शेड्यूल जारी कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने आम नागरिकों के लिए हवाई सफर आसान बनाने के लिए उड़ान-1 व 2 योजना के अंतर्गत उड़ानें शुरू करवाईं है। इसी के तहत अमौसी एयरपोर्ट से जयपुर, देहरादून, पटना के लिए सस्ती व किफायती फ्लाइटें शुरू की गईं, जबकि गत वर्ष लखनऊ से प्रयागराज के लिए भी उड़ान शुरू कर दी गई है। छोटे विमानों पर यात्रियों ने भरोसा जताया है। इसीलिए उड़ान-3 योजना शुरू की गई।

विशेष कार्याधिकारी ने बताया कि लखनऊ सहित प्रदेश में कुल नौ जगहों से उड़ान तीन योजना के तहत फ्लाइटें शुरू होंगी। इसमें कानपुर से पंतनगर, आगरा से भोपाल, लखनऊ, दिल्ली, मुम्बई, बंगलूरू, वाराणसी, इंदौर, जैसलमेर के लिए, फैजाबाद से हिंडन, गाजीपुर से दिल्ली, कोलकाता, कुशीनगर से गया व लखनऊ, हिंडन से जामनगर, कालाबुर्गी, शिमला व फैजाबाद, सहारनुपर से लखनऊ, वाराणसी से पटना, आगरा व भुवनेश्वर के लिए उड़ानें शुरू की जाएंगी।

उन्होंने बताया कि उड़ान-3 के तहत नईं उड़ानें शुरू होने से अमौसी एयरपोर्ट पर विमानों का कारवां बढ़ेगा। एयरपोर्ट से नई एयरलाइनें जुड़ेंगी, जिससे एयरपोर्ट प्रशासन को एक ओर जहां फायदा होगा, वहीं दबाव भी बढ़ेगा। फिलहाल अमौसी से अभी 150 के आसपास उड़ानें संचालित हो रहीं हैं, जबकि उड़ान-3 योजना के तहत यह संख्या बढ़कर 170 के आसपास पहुंच जाएगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper