लड़कियों से नफरत करने वाली महिला ने सायनाइड देकर मार डाले 6 लोग

कोझिकोड: 14 साल के अंतराल में एक ही परिवार के 6 सदस्यों की सायनाइड देकर हत्या करने के मामले में हुए खुलासे से पुलिस के होश फाख्ता हो गए हैं। इस वारदात को अंजाम देने के आरोप में गिरफ्तार तीन लोगों में से एक महिला जॉली लड़कियों से बहुत ज्यादा नफरत घृणा करती थी इसलिए उसने इन वारदातों को अंजाम दिया। जॉली ने तो अपने पहले पति रॉय थॉमस की बहन की दो साल की बेटी को भी जहर देने की कोशिश की थी।

कॉमर्स ग्रैजुएट जॉली के पास इंजीनियरिंग की डिग्री भी है। इन मौतों की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल ने खुलासा किया कि पहली मौत 2002 में हुई जब जॉली के ससुराल वाले अन्नाममा थॉमस और टॉम थॉमस की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। इन दोनों की हत्या महिला जॉलीअम्मा जोसेफ ने सायनाइड देकर की। ये साइनायड जॉली को एमएस मैथ्यू और प्राजी कुमार ने मुहैया करवाया। जॉली के पति रॉय थॉमस की मौत साल 2011 में हुई थी।

रॉय की मां अनम्मा की साल 2002 में, उनके पिता टॉम थॉमस की साल 2008 में, चाचा मैथ्यू मंचडी की साल 2014 में और उनके चचेरे भाई शाजू की पत्नी सिली की साल 2016 में और उनकी भतीजी अल्फाइन की साल 2014 में मौत हुई थी। पहले तो सभी मौतों को प्राकृति माना गया लेकिन जांच करने पर धीरे-धीरे मामले की परतें खुलती गईं। इस दौरान पता चला कि जॉली लड़कियों से नफरत करती थी और उसी ने इन वारदातों को अंजाम दिया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper