लॉकडाउन में रसोई सिलेंडरों की होम डिलेवरी में दिक्‍कत पर प्रशासन सख्‍त, गोदामों से वितरण पर FIR होगी

लखनऊ: एक दैनिक समाचार पत्र में ‘गैस एजेंसियों पर सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ी’ डीएम के विजयेंद्र पांडियन ने कड़ा संज्ञान लिया। शुक्रवार को रसोई गैस वितरक एजेंसियों एवं कंपनियों के प्रबंधनों की बैठक में हिदायत दी कि अगर गोदामों से गैस बांटी तो उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। कड़े निर्देश दिए कि रसोई गैस सिलिंडर की होम डिलीवरी सौ फीसदी सुनिश्चित कराई जाए।

असल में रसोई गैस गोदामों पर भीड़ के कारण सोशल-डिस्टेंश के मानदण्डों का अनुपालन नहीं हो पा रहा है। इस कारण कोरोना से लड़ाई कमजोर हो रही है। स्मरण कराया कि सुबह 5.30 से 9.30 बजे तक की समय सीमा पहले ही खत्म की जा चुकी है। ऐसी में गैस एजेंसियों पर लगी भीड़ धारा 144 का उलंघन माना जाएगा। इस बैठक में आईओसी, एचपीसीएल और बीपीसीएल के जिला प्रबंधक और सभी रसोई गैस एजेंसियों के संचालक भी मौजूद रहे। डीएम ने गैस वितरकों से शत-प्रतिशत होम डिलीवरी कराने का निर्देश दिया। कहा कि सोशल डिस्टेंस का पालन करना जरूरी है। अगर लोग गोदामों पर भीड़ लगाएंगे तो सारा प्रयास बेकार हो जाएगा।

36000 सिलेंडर का ढाई दिन का बैकलॉक
लॉक डाउन के कारण अचानक रसोई गैस की मांग में उछाल आया है। कुछ लोग रसोई गैस स्टोर भी करने लगे हैं जिसके कारण होम डिलेवरी प्रभावित हुई है। इस कारण 36000 रसोई गैस का ढाई दिन का बैकलॉक खड़ा हो गया है। सख्ती से होम डिलेवरी शुरू होगी तो इस बैकलॉक को कवर कर लिया जाएगा। कंपनियों के प्रतिनिधियों ने बताया कि बाटलिंग सेंटर से आपूर्ति में कोई संकट नहीं है। उन्होंने बताया कि गुरुवार को तकरीबन 20 हजार रसोई गैस सिलेंडर वितरित किए गए थे।

सभी हॉकरों को जारी किए गए पास
बैठक में जिला पूर्ति अधिकारी आनंद कुमार सिंह कहा कि सभी हॉकरों के पास बना दिए गए हैं। कुछ के यदि रह गए होंगे तो उन्हें भी उपलब्ध करा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि पेट्रोल पम्प संचालकों एवं कर्मियों के भी पास बनाए जा रहे हैं। सभी कर्मचारियों को निर्धारित वर्दी के साथ आई कार्ड रखने का निर्देश दिया गया है।

जिलापूर्ति अधिकारी रसोई गैस एजेंसियों का किया निरीक्षण
शुक्रवार को जिला पूर्ति अधिकारी आनन्द कुमार सिंह ने गंगा गैस सर्विस, गोल्डेन गैस सर्विस, कालिंदी गैस सर्विस और गोरखपुर गैस सर्विस का निरीक्षण किया। निर्देश दिए कि होम डिलेवरी नहीं होगी। शत-प्रतिशत होम डिलीवरी कराएं। सभी एजेंसियों पर इस बाबत नोटिस लगाने के निर्देश दिए। उधर ग्रामीण इलाकों की गैस एजेंसियों पर होम डिलीवरी की रफ्तार काफी धीमी है। अधिकांश पर गैस के लिए लोगों की भीड़ जुटी रही।

हिन्दुस्तान से साभार

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper