विदेश से हनीमून मना कर लौटे आईएएस अधिकारी ने तोड़ा क्वारंटाइन का नियम, केस दर्ज

कोल्लम: कोरोना वायरस को लेकर जहां पूरा देश खौफजदा है वहीं विदेश से हनीमून मना कर हाल में लौटे केरल के युवा आईएएस अधिकारी कोल्लम के उप जिलाधिकारी अनुपम मिश्रा के खिलाफ घर में पृथक रहने संबंधी नियम का उल्लंघन करने के लिए मामला दर्ज किया गया है। मिश्रा, 2016 बैच के आईएएस अधिकारी हैं और हाल ही में केरल के कोल्लम में सब कलेक्टर का पदभार संभालने के लिए आए थे। उन्होंने अपने वरिष्ठों को सूचित किया कि वह विदेश में थे। तब उन्हें यहां से लगभग 70 किलोमीटर दूर कोल्लम स्थित सरकारी आवास में अलग-थलग रहने के लिए कहा गया था।

जिला अधिकारी बी अब्दुल नासिर ने अधिकारी की हरकत को गंभीर मामला करार देते हुए बताया कि मिश्रा 19 मार्च को सिंगापुर से केरल लौटे थे और उन्हें नियम के मुताबिक घर में पृथक रहने की सलाह दी गई थी। कोरोना वायरस प्रकोप के मद्देनजर विदेश से लौटने वाले प्रत्येक व्यक्ति को पृथक रहना होता है। हालांकि अधिकारी बिना किसी को सूचित किए बेंगलुरु में अपने भाई के यहां रहने चले गए।

जिलाधिकारी की जब मिश्रा से बात हुई तब मालूम चला कि वह बेंगलुरु में है। नासिर ने बताया कि अधिकारी शादी के बाद छुट्टी पर थे और उन्होंने मलेशिया तथा सिंगापुर जाने की अनुमति ली थी। लौटने पर मैंने उन्हें घर में अलग-थलग रहने को कहा। ऐसा लगता है कि वह बेंगलुरु में अपने परिवार के साथ रहने के लिए वहां चले गए। हालांकि पुलिस ने कहा कि मिश्रा की मोबाइल टावर लोकेशन उत्तर प्रदेश का कानपुर दिख रही है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि अधिकारियों को बृहस्पतिवार को पता चला कि कोल्लम में अपने क्वार्टर में रह रहे मिश्रा घर पर नहीं हैं । तब स्वास्थ्य विभाग जो पृथक रह रहे लोगों का नियमित रूप से दौरा करता है, उसने पाया कि उनके घर की लाइटें बंद हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकारी बिना अनुमति छुट्टी गए हैं। उनमें वायरस के कोई लक्षण नहीं थे। हमें सूचित किए बिना वह यहां से चले गये। यह गंभीर मामला है। हमने उनसे उनका वर्तमान पता और बेंगलुरु का यात्रा विवरण मांगा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper