विवेक तिवारी की तेरहवीं पर पत्नी कल्पना तिवारी को नगर निगम में ओएसडी का नियुक्ति पत्र सौंपा गया

लखनऊ ब्यूरो। स्व.विवेक तिवारी की तेरहवीं पर गुरुवार को उनकी पत्नी कल्पना तिवारी को नगर निगम में विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) का पद नियुक्ति पत्र दे दिया गया। नगर आयुक्त डॉ. इंद्रमणि त्रिपाठी खुद जाकर डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा और मेयर संयुक्ता भाटिया कीमौजूदगी में कल्पना तिवारी को नियुक्ति पत्र दिया। इससे पहले बुधवार शाम को नगर निगम ने डाक के माध्यम से कल्पना तिवारी को नियुक्ति पत्र भेज दिया था। विवेक तिवारी की तेरहवीं में सुबह से ही उनके आवास पर राजनैतिक दल के नेता पहुंचे। यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गाँधी की प्रतिनिधि किशोरी लाल शर्मा भी तेरहवीं में शामिल हुए।

नगर निगम ने प्रधान लिपिक या जनसंपर्क अधिकारी के पद के लिए कल्पना तिवारी के नाम का प्रस्ताव शासन को भेजा था। इस पर विचार करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने मृतक विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी को नगर निगम में ओएसडी का पद देने की घोषणा की। इसके बाद नगर निगम ने ओएसड़ी पद के लिए उन्हें नियुक्ति पत्र भेजा।

उल्लेखनीय है की बीते 29 सितंबर की रात को चेकिंग के दौरान पुलिसकर्मियों ने एपल कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद लखनऊ जिलाधिकारी ने कौशल राज शर्मा ने उन्हें सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया था। सरकार ने विवेक की पत्नी के लिये 25 लाख रुपये, मृतक की मां को पांच लाख रुपये और दोनों बच्चों की पढ़ाई के पांच-पाच लाख रुपये देने का ऐलान किया था। मृतक विवेक की पत्नी कल्पना तिवारी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके आवास पर मुलाकात की। विवेक तिवारी हत्याकांड मामले की जांच अभी जारी है।

E-Paper