शरीर को बनाना है सुंदरता और आकर्षण तो करे ये पॉवर योगा

हर महिला के लिए उसके शरीर की सुंदरता और आकर्षण बहुत मायने रखता है और इसके लिए महिलाऐं अपनी त्वचा की सुंदरता पर बहुत ध्यान रखती हैं। लेकिन क्या आप जानते है कि आपके कूल्हों का सुडौलपन भी आपके शरीर का आकर्षण बढ़ाने में आपकी मदद करता हैं। इसलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे पॉवर योगा लेकर आए है जिनकी मदद से आप अपने कूल्हों को सुडौल बनाकर अपने शरीर का आकर्षण बना सकते हैं।

 आनंद बालासन

 आनंद बालासन

पीठ के बल लेट कर अपने घुटनों को मोड़े और उसे पेट के पास सटाएं। अंदर की आरे सांस भरें और अपने पांव की उंगलियों को दोनों हाथों से पकड़ कर पैरों को एक बार फैला कर पेट के पास लाएं। ऐसा कई बार करें।

नटराजासन

कूल्हों का सुडौलपल बनाता है आपके शरीर को आकर्षक, करे पॉवर योगा

सबसे पहले ताड़ासन की मुद्रा में खड़े हो जाये। अपने दाहिने पैर को ऊपर उठाएं और इस तरह पीछे की ओर स्विंग करें कि आपका दायां पैर जमीन के समानांतर हो। अपने घुटने को मोड़ो, दाहिने पैर में खिंचाव लाये पर अपने दाए हाथ से इसे सपर्श करे। एक बार जब आप इस अवस्था में संतुलित हो जाते है, तो अपने बाएं हाथ को आगे की और स्ट्रेच करे। अपनी बाईं उंगलियों को देखते हुए कुछ सेकंड के लिए इसी मुद्रा में रहे। अब सामान्य स्थिति में आ जाये और दूसरी तरफ से भी दोहराये। यह आसन जांघों को कम करने में मदद करता है, हिप्स को शेप में लाता है, पैरों को मजबूत करता है।

उत्कटासन

 उत्कटासन

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper