शिक्षक ने बच्चों को दी तालिबानी सजा, जांच के आदेश

ललितपुर: उत्तर प्रदेश में ललितपुर जिले के एक प्राथमिक विद्यालय में होमवर्क पूरा न करने पर शिक्षक द्वारा चार बच्चों को कथित रूप से 40-40 डंडे मारने की तालिबानी सजा दिए जाने का मामला सामने आया है। मामले में बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सोमवार को जांच के आदेश दिए हैं।

ललितपुर के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी (बीएसए) महाराज स्वामी ने सोमवार को कहा, “यह घटना शनिवार की बताई जा रही है। जिसके अनुसार विकास खंड मड़ावरा के धौलपुरा गांव के प्राथमिक विद्यालय में तीसरी और पांचवीं कक्षा में पढ़ने वाले चार बच्चों को होमवर्क न पूरा करने पर शिक्षक पुष्पेंद्र सोनी द्वारा दंड स्वरूप 40-40 डंडा मारे जाने की शिकायत अभिभावक अरविंद ने की है।”

उन्होंने कहा, “अभिभावक की शिकायत पर सोमवार को मड़ावरा के सहायक शिक्षा अधिकारी (एबीएसए) को मामले की जांच सौंपी गई है, जांच रिपोर्ट मिलने के बाद यथा संभव कार्रवाई की जाएगी।” वहीं, शिकायकर्ता अभिभावक अरविंद ने आरोप लगाया, “शिक्षक अक्सर शराब के नशे में विद्यालय जाता है और नशे की हालत में बच्चों को बेरहमी से पीटता है।”

उन्होंने कहा, “पुलिस से भी शिकायत की गई है और बच्चों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper