श्रीनगर में ईद की नमाज के बाद वापस ली गई ढील, अभी भी धारा 144 लागू

नई दिल्ली: पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ ईद-उल-अजहा (बकरीद) मनाई जा रही है। कश्मीर से कन्याकुमारी तक देश के सभी मस्जिदों और ईदगाहों में नमाज अदी की जा रही है। धारा 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में शांति है और इसी शांति के बीच आज ईद मनाई जा रही है। ईद के पावन त्योहार को लेकर घाटी में सुरक्षा पूरी पुख्ता की गई है, ताकि किसी भी तरह की अप्रिय घटना ना हो। ईद से पहले धारा 144 में थोड़ी छूट दी गई थी, बाजार खुले रहे। ईद की खरीदारी करने के लिए लोग बाहर निकले। लोगों को कई परेशानी न हो इसके लिए प्रशासन ने खास इंतजाम किए हैं। ईद के मौके पर वहां भी खुशी और जश्न का महौल देखा जा रहा है।

बकरीद के दिन नमाज के साथ-साथ जानवरों की कुर्बानी भी दी जाती है। कुर्बानी देने के बाद इसे तीन हिस्सों में बांटा जाता है। एक हिस्सा गरीबों में, दूसरा हिस्सा दोस्त और रिश्तेदारों में और तीसरा हिस्सा अपने पास रखा जाता है। ईद के मौके पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बधाई दी। कश्मीर में बकरीद को देखते सरकार ने कई अहम कदम उठाए हैं। स्थानीय प्रशासन की ओर से घरों पर एलपीजी और सब्जियां भेजी जा रही हैं। छुट्टी के दिन घाटी में बैंक और करीब 3,557 राशन की दुकानें खुली रहेंगी।

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने दिल्ली की कश्मीरी गेट स्थित पुंजा शरीफ दरगाह पर ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नमाज अदा की। मध्य प्रदेश में भी लोगों ने ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नमाज ईदगाह मस्जिद में अदा की। दिल्ली में जामा मस्जिद के सामने भी लोगों ने ईद-उल-अजहा (बकरीद) की नामाज अदा की। इस दौरान जामा मस्जिद के आस पास हजारों लोग मौजूद रहे। महाराष्ट्र में हमिदिया मस्जिद के सामने ईद-उल-अजहा (बकरीद) की लोगों ने नमाज आदा की। इस पाक मौके पर बच्चे बूढ़े और बड़े सभी शामिल रहे। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भी नमाज के दौरान कड़ी सुरक्षा रही। शाह जमाल ईदगाह में लोगों ने नमाज अदा की। इस दौरान ड्रोन के जरिए लोगों पर निगरानी रखी जा रही है।

ईद और स्वतंत्रता दिवस के मद्देनज़र बढ़ाई गई सुरक्षा
अनुच्छेद 370 में किए गए हालिया बदलाव के बाद से ही जम्मू और कश्मीर में धारा 144 लागू है। मोबाइल फोन-इंटरनेट की सुविधा बंद है। इस बीच ईद से पहले लोगों को छूट दी गई है, बाजार में भी हलचल दिखी थी और लोग खरीदारी के लिए बाहर निकले थे। प्रशासन की तरफ से सुरक्षा बढ़ाई गई है, ताकि किसी तरह की स्थिति से निपटा जा सके। आम लोगों को त्योहार के दिनों में किसी तरह की दुविधा ना हो, इसलिए छुट्टी में भी बैंक खुले रखने का आदेश दिया गया है। साथ ही साथ 3500 से अधिक राशन की दुकानें भी खुली रहेंगी। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल अभी भी घाटी में ही हैं और हर तरह से नज़र बनाए हुए है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper